Saturday , December 16 2017

हदीस शरीफ

हज़रत जरीर बिन अब्दुल्लाह रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के,रसूल-ए-पाक (स०) फरमाया, जब तुम्हारे पास ज़कात लेने वाला शख्स आए, तो उसे तुम्हारे पास से राज़ी होकर लौटना चाहिए। ( मुस्लिम)

हज़रत जरीर बिन अब्दुल्लाह रज़ी अल्लाहु तआला अनहु से रिवायत है के,रसूल-ए-पाक (स०) फरमाया, जब तुम्हारे पास ज़कात लेने वाला शख्स आए, तो उसे तुम्हारे पास से राज़ी होकर लौटना चाहिए। ( मुस्लिम)

TOPPOPULARRECENT