Monday , December 11 2017

हम इस वतन को अपना भगवान नहीं समझते: दारुल उलूम

नई दिल्ली: भारत माता की जय बोलने से इंकार करने वाले मीम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी को लेकर सड़क से संसद तक सियासी बवाल के बीच इस्लामिक एजुकेशन इंस्टिट्यूट दारुल उलूम के मुफ्तियों का कहना है कि हम इस वतन को अपना भगवान नहीं समझते और इसलिए किसी भी मुसलमान को  ऐसा नारा लगाने के लिए मजबूर करना जायज नहीं है।
पिछले दिनों भारत माता की जय बोलने को लेकर ओवैसी के बयान आने के बाद दारुल उलूम के मुफ्तियों से कई तरह के सवाल पूछे जा रहे थे। दारुल इफ्ता में हुई आठ सदस्यीय मुफ्तियों की बैठक में इस सवाल पर मंथन किया गया और यह नतीजा निकाल गया। हवाला नंबर 545 (ब) में मुफ्तियों ने जवाब दिया कि कई साल पहले  वंदेमातरम का मसला उठा था जब इस गीत को स्कूलों में हिंदू-मुस्लिम सबके लिए पढ़ना लाजमी किया गया था और अब भारत माता की जय का नारा हर मुसलमान के लिए लाजमी किया जा रहा है।
गौरतलब है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी कह चुके हैं कि भारत माता की जय बोलने के लिए किसी को मजबूर नहीं किया जा सकता।

TOPPOPULARRECENT