Thursday , January 18 2018

हम दहशतगर्दों को जिंदा पकड़ना चाहते थे :अरूण जेटली

images(1)

पठानकोट हमले को लेकर अरूण जेटली मीडिया से मुखातिब हुए। जेटली ने कहा कि ऑपरेशन में लगे जवानों की कोशिश थी कि दहशतगर्दों को जिंदा पकड़ा जाए।

जेटली ने बताया कि कोशिश किया गया कि पठानकोट एयरबेस को कम से कम नुकसान हो, इसी वजह से पूरी सोच समझ के साथ ऑपरेशन चलाया गया।

हम चाहते थे कि दहशतगर्दों को जिंदा पकड़े और एयरबेस को कम नुकसान पहुंचे। जेटली ने बताया कि दहशतगर्द एयरबेस को तबाह करने के मकसद से आए थे। उन्होंने बताया कि चार दहशतगर्दों के शवों को जवानो ने अपने कब्जे में लिया है। सेना के मुताबिक अभी ऑपरेशन जारी है।

बता दें कि अब तक पठानकोट हमले को लेकर चल रहे ऑपरेशन में एयरबेस में छिपे दो और दहशतगर्दों को मार गिराए जाने की खबर है।

सेना, एयरफोर्स और एनएसजी के एक साथ ऑपरेशन में एयरबेस कैंटीन की उस इमारत को बारूद लगाकर उड़ा दिया गया, जिसमें दहशतगर्दों के छिपे होने का शक था।

शुरूआत में कैंटीन में विस्फोट के बाद मलबे से एक दहशतगर्द का शव बरामद हुआ था, लेकिन अब एक और आतंकी के मारे जाने की खबर है।

TOPPOPULARRECENT