Monday , December 18 2017

हरम शरीफ़ में आलमी मुबस्सिरीन की ज़रूरत नहीं – जॉन कैरी

अमरीका के वज़ीरे ख़ारिजा जॉन कैरी का कहना है कि फ़लस्तीन और इसराईल के दरमयान हालिया कशीदगी के मर्कज़ और यहूदीयों और मुस्लमानों के लिए मुक़द्दस मुक़ाम हरम शरीफ़ में आलमी मुबस्सिरीन की तैनाती की कोई ज़रूरत नहीं है।

मशरिक़े वुस्ता के दौरे से क़ब्ल पीर को हिस्पानवी शहर मैड्रिड में सहाफ़ीयों से बात करते हुए उनका कहना था कि मुबस्सिरीन की तैनाती की बजाय ज़रूरत इस बात की है कि इसराईल इस इलाक़े में स्टेटस को बरक़रार रखने के वादों के हवाले से अपनी पोज़ीशन वाज़ेह करे।

ख़्याल रहे कि फ़्रांस ने जुमे को खित्ते की सूरते हाल पर बुलाए गए सलामती कौंसिल के हंगामी इजलास में हरम शरीफ़ के इलाक़े की ग़ैर जानिबदाराना आलमी निगरानी की तजवीज़ दी थी।

ख़बररसां इदारे रोइटर्स के मुताबिक़ जॉन कैरी का कहना था कि हम किसी तबदीली पर ग़ौर नहीं कर रहे और ना ही इसराईल को ऐसा करना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT