हरियाणा गैंगरेप के आरोपियों में एक सेना का जवान भी, पुलिस ने घोषित किया ईनाम

हरियाणा गैंगरेप के आरोपियों में एक सेना का जवान भी, पुलिस ने घोषित किया ईनाम
Click for full image

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बी एस संधू ने शनिवार को बताया कि युवती से कथित रूप से बलात्कार के तीन आरोपियों में से एक राजस्थान में पदस्थ सैन्यकर्मी है और उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम भेजी गयी है. इधर मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल ने आरोपियों की गिरफ्तारी में मदद करने वाले लोगों के लिए एक लाख रुपए नगद ईनाम की घोषणा की है. तीनों ने बस स्टॉप से 19 वर्षीय युवती का कथित रूप से अपहरण कर लिया और बुधवार को हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में बलात्कार किया था

राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने भी हरियाणा के पुलिस प्रमुख बी एस संधू को 19 वर्षीय लड़की के साथ हुए सामूहिक बलात्कार की जांच से यथाशीघ्र अवगत कराने के निर्देश दिए हैं. मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए एनसीडब्ल्यू की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि आयोग इस घटना की कड़ी भर्त्सना करता है और संधू को पत्र लिख कर जल्द से जल्द मामले में हुई प्रगति के बारे में सूचित करने को कहा है.

संधू ने बताया, ‘‘तीन आरोपियों में से एक सैन्यकर्मी है और पुलिस का दल उसे गिरफ्तार करने को राजस्थान गया है. मुझे विश्वास है कि उसे आज गिरफ्तार कर लिया जायेगा.’’ उन्होंने बताया कि दो अन्य आरोपियों की भी तलाश की जा रही है. उन्हें पूरा विश्वास है कि वे भी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे. साउथ वेस्टर्न कमांड के कमांडिंग इन चीफ ले. जन. चेरिश माथसन ने बताया कि अपराध में कोई सेन्यकर्मी शामिल हुआ तो उसे बख्शा नहीं जाएगा. हम उसे पकड़ने ओर सजा दिलाने में पूरा सहयोग करेंगे. भारतीय सेना अपराधियों को संरक्षण नहीं देती है.

संधू ने बताया कि पीड़िता को सभी आरोपी जानते थे. इस मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है. इसकी मुखिया नूह की एसपी नाजनीन भसीन को बनाया गया है. नाजनीन ने शनिवार सुबह पीड़िता से अस्पताल में मुलाकात की. बाद में उन्होंने बताया कि पीड़िता की हालत नियंत्रण में है. मुख्य आरोपियों की पहचान कर ली गई है और उन्हें जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. उन्होंने यह भी बताया कि आरोपियों को पकड़ने में मदद करने वाले को एक लाख रुपए का ईनाम दिया जाएगा.

Top Stories