हरियाणा गौ-सेवा आयोग ने काउ हॉस्टल बनाने की योजना तैयार की

हरियाणा गौ-सेवा आयोग ने काउ हॉस्टल बनाने की योजना तैयार की

देशभर में गौ-सेवा और अपने कई फैसलों को लेकर चर्चा में रहने वाली हरियाणा सरकार गौ संरक्षण के लिए एक और नया फैसला लेने की तैयारी में है. हरियाणा गौ-सेवा आयोग ने गौशालाओं के साथ-साथ शहरी इलाकों में काउ हॉस्टल बनाने की योजना तैयार की है. काउ होस्टल में शहर में रहने वाले लोग भी गाय पाल सकेंगे.

आयोग के मुताबिक शहरों मे काफी तादाद में ऐसे लोग है जो गाय पालना चाहते है लेकिन जगह की कमी और रिहायशी क्षेत्र में पशु ऱखने की अनुमति नहीं होना उनके लिए मुश्किलें पैदा करता है. इसीलिए काउ हॉस्टल के लिए गौ-सेवा आयोग विचार कर रहा है. काउ हॉस्टल के लिए प्रदेश सरकार ही जमीन  उपलब्ध करवाएंगी और निर्माण का खर्च भी उठाएगी.

शहरी इलाकों में रहने वाले लोग काउ हॉस्टल में अपनी जरुरत के हिसाब से गाय पाल सकेंगे. हालांकि इसके लिए उन्हें गाय का ऱख-ऱखाब और चारे का खर्च खुद ही वहन करना होगा. इसके साथ ही आयोग देशी नस्ल की पांच गाय की खरीद पर 50 फीसदी सब्सिडी भी देगा.

आयोग के मुताबिक गाय का मालिक काउ हॉस्टल में जाकर खुद ही अपनी गाय का सुबह -शाम दूध निकालकर ला सकेंगे. आयोग का तर्क है कि इस फैसले से जहां शहरी क्षेत्र के लोगों को ताजा और गुणवता वाला दूध मिल सकेगा और बेसहारा गायों को भी आसरा मिलेगा.

Top Stories