हरीश साल्वे बन सकते हैं अगला अटार्नी जनरल, हो रहा विचार

हरीश साल्वे बन सकते हैं अगला अटार्नी जनरल, हो रहा विचार
Click for full image

नई दिल्ली।कुलभूषण जाधव मामले में सिर्फ एक रुपये में पैरवी करने और अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में पाकिस्तान को पटखनी देने में अहम भूमिका निभाने वाले वकील हरीश साल्वे को केन्द्र की मोदी सरकार पुरस्कृत करने पर गंभीरता से विचार कर रही है। प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारी की मानें तो प्रधानमंत्री मोदी ने खुद फोन कर हरीश साल्वे का कुलभूषण मामले में बधाई दी थी।

पीएमओ के सूत्रों के अनुसार अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी की जगह हरीश साल्वे को नया अटॉर्नी जनरल बनाया जा सकता है। सूत्रों का कहना है कि हेग में पाकिस्तान के खिलाफ मुकदमा लडऩे के लिए हरीश साल्वे का चयन प्रधानमंत्री मोदी ने खुद किया था। प्रधानमंत्री कार्यालय के संपर्क करने और मोदी की इच्छा से अवगत कराने के बाद हरीश साल्वे ने केस लडऩे की सहमति दी थी।

पीएमओ के सूत्र बताते हैं कि केन्द्र के कई महत्वपूर्ण मामले सुप्रीम कोर्ट में लंबित है और सरकार को लगता है कि हरीश साल्वे इन मामलों में मोदी सरकार का पक्ष ना सिर्फ मजबूती से रख सकते है बल्कि अपनी जिरह से फैसला अपने पक्ष में कराने का माद्दा रखते है।

उल्लेखनीय है कि अगले माह अटार्नी जनरल मुकूल रोहतगी का कार्यकाल पूरा हो रहा है। संभावना है कि केन्द्र सरकार मुकुल रोहतगी को दोबारा देश का अटार्नी जनरल नहीं बनाएगी। सूत्रों की माने तो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी हरीश साल्वे को अगला अटार्नी जनरल बनाना चाहते हैं। सूत्र बताते है कि शाह खुद हरीश साल्वे को तैयार करने की जिम्मेदारी उठा रहे हैं।

Top Stories