Thursday , November 23 2017
Home / AP/Telangana / हर नए ज़िला को कलक्ट्रेट की तामीर के लिए 1.5 करोड़ रुपए की मंज़ूरी का फ़ैसला

हर नए ज़िला को कलक्ट्रेट की तामीर के लिए 1.5 करोड़ रुपए की मंज़ूरी का फ़ैसला

हैदराबाद 07 सितम्बर: चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चंद्रशेखर राव‌ ने नए अज़ला में दशहरा से मह्कमाजात माल और पुलिस में पहले दिन से काम काज के आग़ाज़ को यक़ीनी बनाने की कलेक्टरस को हिदायत दी।

हर मंडल में आबादी के हिसाब से 35 हज़ार रखने का मश्वरह दिया। अवाम की सहूलत के लिए नए अज़ला , रेवेंन्यू डीवीझ़नस और मंडलस बनाने पर-ज़ोर देते हुए कहा कि अवाम ने 75 नए मंडलस बनाने का मुतालिबा किया है जिसमें 45 मंडलस के लिए पहले ही बिल आर्डर जारी कर दिया गया है।

मह्कमाजात और मुलाज़िमीन की तक़सीम पर ख़ुसूसी तवज्जा देने की हिदायत दी। चीफ़ मिनिस्टर ने एमसी आर एच आर डी में कुलेक्टरस की मीटिंग तलब करते हुए नए अज़ला की तशकील का जायज़ा लिया जिसमें रियासती वुज़रा जगदीश्वर रेड्डी, महिन्द्र रेड्डी, चीफ़ सेक्रेटरी राजीव शर्मा, डीजीपी अनुराग शर्मा के अलावा सीनीयर आईएऐस, आईपीऐस ऑफीसरस, कलेक्टरस और एसपिज ने शिरकत की।

इस मौके पर ख़िताब करते हुए चीफ़ मिनिस्टर ने दशहरा से नए अज़ला के साथ साथ नए मंडलस और नए रेवेन्यू डीवीझ़नस में भी काम काज के आग़ाज़ पर-ज़ोर दिया।

तालीम के मुआमले में तमाम मह्कमाजात के लिए एक ही ऑफीसर, महिकमा बहबूद को एक ही प्लेटफार्म पर लाने का फ़ैसला किया गया। छोटे अज़ला की तशकील से तरक़्क़ी और फ़लाही स्कीमात की अमल आवरी में आसानी होगी और अवाम को फ़ायदा होगा।

चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि इन तमाम पहलूओं को पेशे नज़र रखते हुए छोटे अज़ला तशकील दिए जा रहे हैं। आबपाशी प्रोजेक्ट्स की तकमील से तेलंगाना में सबज़ इन्क़िलाब आएगा।

अक़लियतों की तरक़्क़ी और बहबूद के लिए हुकूमत की तरफ से बड़े पैमाने पर इक़दामात किए जा रहे हैं। ताहम स्कीमात की अमल आवरी के लिए सिस्टम नहीं है। नए अज़ला में कलेक्टरस ऑफ़िस के क़ियाम के लिए एक करोड़ और पुलिस स्टेशनस के क़ियाम के लिए 50 लाख मंज़ूर करने का एलान किया।

TOPPOPULARRECENT