हलब के मिल्ट्री एयरपोर्ट पर बाग़ीयों का क़ब्ज़ा

हलब के मिल्ट्री एयरपोर्ट पर बाग़ीयों का क़ब्ज़ा
शाम में बाग़ी फ़ौज जैश अलहर ने दस माह की तवील लड़ाई के बाद हलब शहर के मर्कज़ी फ़ौजी हवाई अड्डे मंग पर क़ब्ज़े का दावा किया है। जैश अलहर के ज़राए ने बताया कि मंग फ़ौजी अड्डे पर क़ब्ज़े से क़ब्ल एक ख़ुदकुश बमबार ने बारूद से भरे टैंक को

शाम में बाग़ी फ़ौज जैश अलहर ने दस माह की तवील लड़ाई के बाद हलब शहर के मर्कज़ी फ़ौजी हवाई अड्डे मंग पर क़ब्ज़े का दावा किया है। जैश अलहर के ज़राए ने बताया कि मंग फ़ौजी अड्डे पर क़ब्ज़े से क़ब्ल एक ख़ुदकुश बमबार ने बारूद से भरे टैंक को हवाई अड्डे हेड कुआटर से टकरा दिया, जिस के नतीजे में बड़े पैमाने पर इमारतें ज़मींबोस होगई हैं।

बाग़ी फ़ौज के ज़रीया ने बताया कि फ़ौज ने मंग फ़ौजी अड्डे के बेशतर हिस्सों का कंट्रोल संभाल लिया है। कुछ मक़ामात पर मोरचा बंद सरकारी फ़ौजीयों और बाग़ीयों के दरमियान अब भी फायरिंग का तबादला हो रहा है। ताहम जलद ही बाग़ी फ़ौजी अड्डे का मुकम्मल कंट्रोल संभाल लेंगे।

Top Stories