Wednesday , December 13 2017

हां, मैंने किया है आबरू रेज़ी

भागलपुर 24 अप्रैल : मध्य प्रदेश के सिवनी जिला के घनसोर थाना इलाका में चार साला मासूम के साथ आबरू रेज़ी के आरोपी फिरोज (अमरपुर प्रखंड के ढीबरा गांव रिहायसी) को मंगल देर शाम हुसैनाबाद मसजिद के पास मुकामी लोगों ने धर दबोचा और जमकर धुनाई

भागलपुर 24 अप्रैल : मध्य प्रदेश के सिवनी जिला के घनसोर थाना इलाका में चार साला मासूम के साथ आबरू रेज़ी के आरोपी फिरोज (अमरपुर प्रखंड के ढीबरा गांव रिहायसी) को मंगल देर शाम हुसैनाबाद मसजिद के पास मुकामी लोगों ने धर दबोचा और जमकर धुनाई कर दी।

इत्तेला मिलते ही मोजाहिदपुर पुलिस मौके पर पहुंची और मुलजिम को गिरफ्तार कर लिया। बावजूद इसके लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा था। मुकामी लोग उसे पुलिस गिरफ्त से छुड़ाकर जान से मार देने पर अमादा थे।
काफी मशक्कत के बाद सिविल ड्रेस में पहुंचे थाना इंचार्ज जमील असगर ने लोगों को समझा-बुझाकर फिरोज को वहां से महफूज़ निकाला। बबरगंज थाना में सिटी डीएसपी वीणा कुमारी मुलजिम से पूछताछ की। देर रात उसे कोतवाली थाना लाया गया, जहां पूछताछ के दौरान उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। बुध सुबह मुलजिम को अदालती हिरासत में कोर्ट में पेश किया जायेगा।

जिसके बाद मध्य प्रदेश पुलिस उसे रिमांड पर लेने का दरख्वास्त करेगी। सिवनी के डीएसपी प्रणय नागवंशी बताया कि मुलजिम को पकड़वाने में पुलिस की मदद करने वालों को इनाम दिया जायेगा। बता दें कि बच्ची से फिरोज की गिरफ्तारी के लिए मध्यप्रदेश व बिहार पुलिस सूबे के दीगर जिलों में मुश्तरका मुहीम चला रही थी। पुलिस से बचने के लिए वह पिछले तीन दिन से भागलपुर, बांका, सुपौल व नवगछिया में ठिकाने बदल रहा था।

इससे साबिक बबरगंज थाना इलाके के बौंसी रोड रिहायसी फिरोज की खाला तब्बसुम को मध्यप्रदेश पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ किया था। मध्य प्रदेश के सिवनी जिले के डीएसपी प्रणय नागवंशी के कियादत में तीन रुक़न टीम इतवार से ही मुलजिम की तलाश में दीगर जगहों पर छापेमारी कर रही थी।

मुलजिम की गिरफ्तारी के बाद डीएसपी श्री नागवंशी ने बताया कि मध्यप्रदेश के सिवनी जिले के धनसोर थाना इलाके में 17 अप्रैल को चार साला बच्ची के साथ ढिमड़ा गांव रिहायसी मो मोइद का बेटा फिरोज ने आबरू रेज़ी किया और बच्ची को बदहवास छोड़ कर भाग खड़ा हुआ।

मामले का पता चलने के बाद पुलिस टीम ने मुलजिम के गांव में छापेमारी की पर उसका पता नहीं चला। इस दरमियान मुलजिम के अब्बा मोइद, अम्मी बीबी सिदिका, बीवी फरजाना व खाला को हिरासत में लेकर पूछताछ किया। उन्होंने बताया कि फिरोज के अहले खाना को छोड़ दिया जायेगा।

TOPPOPULARRECENT