Saturday , July 21 2018

हाजी याकूब कुरैशी का विवादित बयान, कहा मुस्लिमो एकजुट हो जाओ वरना भाजपा वोटिंग राइट छीन लेगी

 

मेरठ:  उत्तर प्रदेश के सियासी मैदान में नेताओं का ध्रुवीकरण और सांम्प्रदायिकता बढ़ाने का का खेल जारी है। योगी आदित्यनाथ, सुरेश राणा और संगीत सोम के बाद अब इस के खेल के मैदान में बसपा नेता हाजी याकूब कुरैशी भी कुद गये है। सोशल मीडिया में आजकल उनका एक वीडियों वॉयरल हो रहा है। जिसमें वो कहते दिख रहे हैं कि अगर भाजपा सत्ता में आ गई तो मुस्लिमों का वोटिंग राइट अधिकार छीन लेंगी। नमाज और अजान बंद करवा देगी। इसलिए एकजुट होकर भाजपा को हराइये और बसपा को जीत दिलाइये। बताया जा रहा है ये बयान मेरठ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए याकूब कुरैशी ने कही थी।
उनके इस बयान के आधार पर मेरठ थाना खरखोदा में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। थाने के एचसीपी सूरज त्यागी की तहरीर पर धारा 153a, 295a,188, 502(2)125 लोक अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया गया है।

हाजी याकूब कुरैशी इस जनसभा में सिर्फ यही नहीं रुके। हाजी याकूब ने कहा कि हो सकता है कि उत्तर प्रदेश का चुनाव हिंदुस्तान का आखिर चुनाव हो क्योंकि भाजपा अगर सत्ता में आ गई तो हम जिदंगी भर चुनाव नहीं कराए जाएंगे। फिर उसके बाद ना ही हमारे पास वोट की ताकत होगी ना ही हमारा कोई एमएलए।

मुजफ्फरनगर दंगो के बाद पश्चिमी यूपी में साम्प्रदायिका और ध्रुवीकरण का माहोल पनपा था। लोकसभा चुनावों में पार्टियों ने इसका जमकर सियासी फायदा भी उठाया गया था। यूपी विधानसभा में ऐसी ही कोशिश की जा रही है। इसी कड़ी में भाजपा नेता सुरेश राणा से लेकर संगीत सोम भड़काउ बयान कर ध्रुवीकरण को लौ देकर आग को बरकरार रखने की कोशिश कर रहे हैं। हाजी याकूब कुरैशी के बयान को भी ध्रुवीकरण का दूसरे पाले का भी फायदा लेने की कोशिश करते हुए देखा जा सकता है।

TOPPOPULARRECENT