Sunday , July 22 2018

हादिया के पिता ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- उसे ‘सेक्स स्लेव’ बनाने की योजना थी

केरल की हादिया के पिता अशोकन ने हादिया द्वारा दाखिल किए गए एक शपथपत्र के जवाब में मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट से कहा कि हादिया का ‘शारीरिक के साथ-साथ मानसिक’ तौर पर भी अपहरण किया गया है. यह बात सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश के बाद सामने आई है जिसमें कोर्ट ने कहा था कि एनआईए हादिया केस के वैवाहिक पक्ष की जांच नहीं कर सकती है.

अशोकन ने कहा कि जब मेरी बेटी का मानसिक व शारीरिक स्तर पर अपहरण किया जा रहा हो, तो चुपचाप नहीं बैठा जा सकता. उन्होंने कहा कि उनकी योजना थी कि हादिया को देश के बाहर भेजकर उसे ‘सेक्स स्लेव’ या ‘मानव बम’ की तरह उसका प्रयोग किया जाए.

हालांकि, इस पूरे मामले में सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के दौरान हादिया ने कहा था कि वह अपनी इच्छा से अपने पति शफीन जहां के साथ रहना चाहती थी. जनवरी में जब न्यायमूर्ति चंद्रचूड़ ने हादिया से उसके भविष्य के सपनों के बारे में पूछा तो उसने कहा कि ‘मै स्वतंत्रता चाहती हूं.’

बता दें कि मई 2017 में केरल हाई कोर्ट ने हादिया की शफीन जहां के साथ शादी को रद्द कर दिया था व हादिया को उसके मां-बाप के सुपुर्द कर दिया था. लेकिन जनवरी 2018 में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अपने बारे में निर्णय करने का अधिकार सिर्फ हादिया को ही है.


मंगलवार को अशोकन ने कहा कि हादिया का ब्रेनवॉश किया गया है. वह इस समय बहुत ही नाज़ुक हालत में है और उसे देखभाल की ज़रूरत है. उन्होंने कहा कि उसका तथाकथित पति तो एक प्यादा है. चरमपंथी संगठनों ने इस आदमी का प्रयोग मेरी बेटी को फंसाने के लिए किया है.

पिछले साल नवंबर में सुप्रीम कोर्ट ने हादिया को तमिलनाडु के सलेम भेज दिया था, ताकि वह अपनी होम्योपैथी की पढ़ाई कर सके.

TOPPOPULARRECENT