Tuesday , December 12 2017

हाफ़िज़ सईद को हवाले करने पर हिंदूस्तान 10 मिल‌यन डालर अदा करने तैयार

नई दिल्ली। लश्कर‍ ए‍ तैयबा के बानी और 26/11 के अहम‌ मुल्ज़िम(अपराधि) हाफ़िज़ सईद के सर पर 10 मिल‌यन डालर के इनाम का मामले पर‌ मोतमद दाख़िला आर के सिंह के अभि किये गए ईस्लामाबाद के दौरे के मौक़ा पर बहेस हुइ । सहाफ़ीयों के साथ बातचित‌ के दौर

नई दिल्ली। लश्कर‍ ए‍ तैयबा के बानी और 26/11 के अहम‌ मुल्ज़िम(अपराधि) हाफ़िज़ सईद के सर पर 10 मिल‌यन डालर के इनाम का मामले पर‌ मोतमद दाख़िला आर के सिंह के अभि किये गए ईस्लामाबाद के दौरे के मौक़ा पर बहेस हुइ । सहाफ़ीयों के साथ बातचित‌ के दौरान इस मसले पर लफ़्ज़ी झड़प देखी गई ।

मोतमदान ए दाख़िला सतह कि दो रोज़ा बातचित‌ के बाद प्रैस कान्फ़्रैंस में एक पाकिस्तानी सहाफ़ी ने हाफ़िज़ सईद का मसला उठाते हुए पूछा कि ख़ातिरख़वाह सबूत देने पर अमेरीका ने जिस रुकमी इनाम का एलान किया है क्या वो रक़म हिंदूस्तान अदा करेगा । मोतमद दाख़िला आर के सिंह ने तुरंत‌ जवाब दिया अगर हाफ़िज़ सईद को हिंदूस्तान के हवाले कर दिया जाए तो हमें ये रक़म अदा करते हुए ख़ुशी महसूस होगी ।

इस दौरान सरकारी ज़राए(सुत्रो) ने बताया कि हिंदूस्तान ने बातचीत के मौक़ा पर हाफ़िज़ सईद के ख़िलाफ़ पाकिस्तान को ताज़ा सबूत फ़राहम किए और सख़्त कार्रवाई करने पर ज़ोर दिया । हिंदूस्तानी वफ़द ने पाकिस्तानी वफ़द से कहा कि हाफ़िज़ सईद के ख़िलाफ़ काफ़ी सबूत दिए जा चुके हैं । जिस के नतीजे में ये केस ओर ज्यादा मजबुत‌ होता है ।

बताया जाता है कि 26/11के हमला करने वाले अजमल क़स्साब ने जो एतराफ़ी ब्यान दिया था इस का सबूत भी पाकिस्तान के हवाले किया गया । अजमल क़स्साब ने जांच‌ ओहदेदारों को मुंबई दहश्तगर्द हमले में हाफ़िज़ सईद के रोल के बारे में बताया । यही नहीं हिंदूस्तान ने पाकिस्तानी नज़ाद दहश्तगर्द डेविड हेडली से मिलने वाली मालूमात भी पाकिस्तान को दी है ।

बातचीत के दौरान हिंदूस्तान की तरफ़ से पाकिस्तान में मौजूद दहश्तगर्द इंफ़रास्ट्रक्चर सरहद पार मुदाख़िलत कारी की हालिया पाँच कोशिशें सीख दहश्तगरदों की मौजूदगी और जाली हिंदूस्तानी करंसी के बहाव‌ का मामला भी उठाया गया था। पाकिस्तान ने भी बलोचिस्तान में बदअमनी के लिए हिंदूस्तान को मौरिद इल्ज़ाम क़रार देने की कोशिश की लेकिन मोतमिद दाख़िला ने इन इल्ज़ामात को रद‌ करते हुए कहा कि पाकिस्तानी सूबा में जारी बदअमनी से हिंदूस्तान का कोई ताल्लुक़ नहीं ।

TOPPOPULARRECENT