हार्दिक पटेल खिलाफ राजद्रोह व साजिश रचने के आरोप तय, चलेगा मुक़दमा !

हार्दिक पटेल खिलाफ राजद्रोह व साजिश रचने के आरोप तय, चलेगा मुक़दमा !

अहमदाबाद की सत्र अदालत ने वर्ष 2015 के एक राजद्रोह के मामले में पाटीदार ओबीसी आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल के खिलाफ आरोप तय कर दिए हैं। कोर्ट ने हार्दिक पटेल के दो अन्य साथियों दिनेश बंभानिया और चिराग पटेल के खिलाफ भी आरोप तय कर दिए हैं। साल 2015 में, पाटीदार आरक्षण आंदोलन के बाद गुजरात के कई जिलों में हिंसा भड़क उठी थी।

कोर्ट ने अहमदाबाद क्राइम ब्रांच द्वारा दायर 18 पेज के आरोपत्र पढ़ते वक्त धारा 124 (ए) (राजद्रोह) और 120 (बी) (आपराधिक साजिश) के आरोप तय किए। तीनों को पटेल आरक्षण को लेकर सरकार पर दबाव डालने के लिए हिंसा भड़काने का आरोपी भी बनाया गया है।

तीनों ने खुद को निर्दोष बताया है और फिलहाल तीनों जमानत पर हैं।

हार्दिक ने कोर्ट से बाहर आकर कहा, ‘मेरे खिलाफ राजद्रोह, सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने, लोगों को उकसाने के आरोप तय किए गए हैं, मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। जरूरत पड़ी तो ऊपरी अदालत का रुख करूंगा।’

Top Stories