Saturday , December 16 2017

हिंदपीढ़ी में दिया गया था ऑपरेशन मछली को हतमी शकल

दारुल हुकूमत में इंडियन मुजाहिद्दीन (आइएम) के दहशतगर्दों की तादाद में रोजाना इजाफा होती जा रही है। नेशनल इंनवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआइए) की टीम ने जुमा को हिंदपीढ़ी में छापेमारी की। टीम ने वहां से एक अफराद को हिरासत में लिया है। ज़राय

दारुल हुकूमत में इंडियन मुजाहिद्दीन (आइएम) के दहशतगर्दों की तादाद में रोजाना इजाफा होती जा रही है। नेशनल इंनवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआइए) की टीम ने जुमा को हिंदपीढ़ी में छापेमारी की। टीम ने वहां से एक अफराद को हिरासत में लिया है। ज़राये के मुताबिक हिंदपीढ़ी से जिस अफराद को हिरासत में लिया गया है, उसके घर पर ही पटना सीरियल धमाके की साजिश को हतमी शकल दिया गया था।

आखरी बार वहीं पर उज्जैर, इम्तियाज और मो वसीम जुटा था। बताया जाता है कि पटना में सीरियल धमाके को ऑपरेशन मछली का नाम दिया गया था। वहीं से ऑपरेशन मछली स्टार्ट करने की हिदायत तमाम को दी गयी थी। एनआइए की टीम ने शहर के दूसरे हिस्सों से भी तीन दीगर लोगों को शक की बुनियाद पर हिरासत में लिया है। तीनों से पूछताछ हो रही है। पुलिस मान कर चल रही है कि तहक़ीक़ात में और कामयाबी मिलेगी।

इम्तियाज के पास से कई फोन नंबर मिले हैं

धमाके के मामले में गिरफ्तार सीठियो रिहायसी इम्तियाज से एनआइए को कई फोन नंबर मिले हैं। फोन नंबर की बुनियाद पर रांची के मुखतलिफ़ मुकामात पर छापेमारी हो रही है। रांची के गाँव के इलाकों में भी आइएम के मेंबरों के होने की इत्तिला एनआइए को मिली है। एनआइए की टीम देही इलाकों में भी छापेमारी करेगी।

उज्जैर के घर से मिले पासपोर्ट और सीडी

डोरंडा पुलिस ने मणिटोला, फिरदौस नगर वाक़ेय उज्जैर अहमद के घर की तलाशी ली। उसके घर से पुलिस को तीन पासपोर्ट और बहुत सारे सीडी समेत आइएम से जुड़े के अहम कागजात, इलेक्ट्रॉनिक्स पार्ट्स, चिप और ट्रांसफरमर वगैरह मिले हैं। डोरंडा पुलिस तमाम सामान साथ ले गयी। जब्त सामान को एनआइए को सौंपा जायेगा। उज्जैर के घर से मिले तीन पासपोर्ट में दो पासपोर्ट उज्जैर अहमद के हैं, जबकि एक पासपोर्ट उसकी बीवी फातिमा के नाम से है। उज्जैर की बीवी इथोपिया की रिहायसी है। डोरंडा पुलिस जुमा को दिन के 12.30 बजे उज्जैर के घर पहुंची। दो घंटे तक उसके घर की तलाशी ली गयी। इस दौरान उज्जैर के भाई और बीवी फातिमा ने भी हो-हल्ला किया। पुलिस ने जब कड़ा रूख अपनाया, तब घर के लोग पुरशुकुन हुए।

TOPPOPULARRECENT