Saturday , December 16 2017

हिंदुतवा का नरम चेहरा जी निरंजन

हैदराबाद 27 अगस्त:तर्जुमान तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस जी निरंजन ने चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना की तरफ से मुसलमानों के जज़बात का एहतेराम करते हुए यौम इंज़िमाम सरकारी सतह पर ना मनाने के फ़ैसले को और के सी आर को निज़ाम का वारिस क़रार देते हुए टी आर एस क़ाइदीन को चीफ़ मिनिस्टर और हुकूमत के ख़िलाफ़ बग़ावत करके अवामी ख़ाहिश को पूरा करने का मश्वरह दिया।

गांधी भवन में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान इन्होंने एक वीडीयो कल्पि दिखाते हुए कहा कि कांग्रेस दौरे हुकूमत में जब के रोशिया चीफ़ मिनिस्टर थे, सरबराह टी आर एस ने 17 सितंबर को यौम इंज़िमाम तक़रीब सरकारी तौर पर मनाने का हुकूमत से मुतालिबा किया था और अब टी आर एस के बरसर-ए-इक्तदार आने के बाद अपने मुतालिबा को अमली जामा पहनाने की बजाये चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना ने क्रीमनगर में एक प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब करते हुए कहा कि उनकी हुकूमत मुसलमानों के जज़बात का एहतेराम करते हुए यौम इंज़िमाम तक़रीब सरकारी सतह पर नहीं मनाएगी।

इन्होंने चीफ़ मिनिस्टर के इस बयान की सख़्त मज़म्मत करते हुए कहा कि 67 साल बाद भी मुस्लमान उस दिन को ज़ुलम-ओ-बरबरीयत के नाम से याद करते हैं।

चीफ़ मिनिस्टर की तरफ से इस किस्म का रिमार्क बदबख्ताना है। जी निरंजन ने कहा कि मुसलमानों को क़ौमी धारे में शामिल करने की बजाये उन्हें मज़ीद दूर करना दरुस्त नहीं है।

TOPPOPULARRECENT