Friday , December 15 2017

हिंदुस्तान जश्न-ए-आजादी की मिठाई पाकिस्तान को नही खिलाएगा

अमृतसर: आप सभी को मालूम कि पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। हिंदुस्तान और पाकिस्तान के सियासी कियादत की तरफ से भले ही बातचीत की कोशिश की जा रही हों, लेकिन सरहद पर तैनात बीएसएफ ने तय किया है कि वह जश्न ए आज़ादी के मौके पर न तो पाक रेंजर्स को मिठाई देगी और न ही लेगी ।

रिवायत से हट कर बीएसएफ ने यह फैसला लिया है कि 14 अगस्त को पाक के आजादी के मौके पर वह रेंजर्स को कोई मिठाई और गिफ्ट नहीं देगी। इसके अलावा उनसे किसी तरह का तोहफा कुबूल भी नहीं किया जाएगा। दोनों मुल्कों के सेक्युरिटी फोर्स के बीच वाघा बार्डर पर यौम ए आज़ादी के अलावा ईद और दिवाली जैसे त्योहारों भी मिठाई बाटी जाती रही आदान-प्रदान किया जाता रहा है।

लेकिन इस बार बीएसएफ ने पंजाब और जम्मू-कश्मीर में पिछले महीने हुए दहश्तगर्दाना हमलों का एहतिजाज जताते हुए इस रिवायत या परंपरा को तोडते हुए पाक को उसी के अंदाज में जवाब देने का फैसला लिया है। पंजाब फ्रंटीयर के बीएसएफ आईजी अनिल पालीवाल ने कहा, इस साल वाघा बॉर्डर पर हम मिठाई एक्सचेंज नहीं करेंगे।

इसके अलावा किसी तरह का तोहफा भी कुबूल नहीं किया जाएगा। पालीवाल ने कहा कि सरहद पर मौजूदा माहौल ऐसा है कि बीएसएफ के जवान पाक रेंजर्स के तईन कोई हमआहंगी ज़ाहिर नहीं कर सकते।

एक सीनीयर बीएसएफ आफीसर कहा कि इस बारे में सभी को इत्तेला दे दी गई है। दोनों मुल्कों के बीच सरहद पर यह कडवाहट पिछले दिनों ईद के मौके पर देखने को मिली थी, जब पाक रेंजर्स ने हिंदुस्तानकी ओर से दी गई मिठाई को लौटा दिया था।

दोनों मुल्कों के सेक्युरिटी फोर्स वाघा बार्डर और राजस्थान और गुजरात से लगती सरहदी चौकियों पर अहम मौकों पर एक-दूसरे को मुबारकबादी के तौर पर मिठाई तक्सीम करते रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT