Thursday , February 22 2018

हिंदुस्तान से तर्क-ए-वतन पर कमल हासन का संजीदगी से ग़ौर

मुंबई, 01 फरवरी: (पी टी आई) अदाकार फ़िल्मसाज़ कमल हासन ने जो आज मुंबई में थे ताकि अपनी तनाज़ा का शिकार फ़िल्म विश्वा रूपम की तशहीर कर सकें , कहा कि इस किस्म का तनाज़ा दुबारा भी पैदा हो सकता है, इसलिए वो संजीदगी से तर्क-ए-वतन करने पर ग़ौर कर रहे

मुंबई, 01 फरवरी: (पी टी आई) अदाकार फ़िल्मसाज़ कमल हासन ने जो आज मुंबई में थे ताकि अपनी तनाज़ा का शिकार फ़िल्म विश्वा रूपम की तशहीर कर सकें , कहा कि इस किस्म का तनाज़ा दुबारा भी पैदा हो सकता है, इसलिए वो संजीदगी से तर्क-ए-वतन करने पर ग़ौर कर रहे हैं।

उन्हों ने कहा कि ब्रहमी और जज़बात के दबाव के तहत वो मुल्क से रुख़स्त होने पर मजबूर हो जाएंगे लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि वो ऐसा करना चाहते हैं। उन्होंने हिंदुस्तान में शोहरत और इज़्ज़त पाई है लेकिन ऐसा अगर दुबारा होता है जैसा कि विश्वारूपम के सिलसिले में हुआ है तो वो संजीदगी से तर्क-ए-वतन पर ग़ौर करने पर मजबूर हो जाएंगे।

उन्होंने कहा कि वो चीफ़ मिनिस्टर तमिलनाडू जया ललीता के मशकूर हैं जिन्होंने उनकी मदद करने का पेशकश किया है। कमल हासन ने कहा कि वो भी एक फ़नकार हैं, और फ़नकार की मुश्किलात को अच्छी तरह समझती हैं।

TOPPOPULARRECENT