Friday , December 15 2017

हिंदुस्तान 2018 हाकी वर्ल्ड कप का मेज़बान

इंटरनेशनल हाकी फ़ैडरेशन (एफ़ आई ऐच) ने हिंदुस्तान को मुस्तक़बिल में हाकी का मर्कज़ ज़ाहिर करते हुए उसे चार अहम और बड़े टूर्नामेंटस की मेज़बानी के हुक़ूक़ दिए हैं जिस में 2018 का वर्ल्ड कप भी शामिल है।

इंटरनेशनल हाकी फ़ैडरेशन (एफ़ आई ऐच) ने हिंदुस्तान को मुस्तक़बिल में हाकी का मर्कज़ ज़ाहिर करते हुए उसे चार अहम और बड़े टूर्नामेंटस की मेज़बानी के हुक़ूक़ दिए हैं जिस में 2018 का वर्ल्ड कप भी शामिल है।

2015 ता 2018 के दरमयान हिंदुस्तान जो चार बड़े ईवंटस की मेज़बानी करेगा इस में 2015 वर्ल्ड लीग फाईनल और 2016 जूनियर वर्ल्ड कप के इलावा 2017 में वर्ल्ड लीग फाईनल शामिल हैं। बैनुल-अक़वामी तंज़ीम की जानिब से बड़े ईवंटस की मेज़बानी मिलने के बाद हाकी इंडिया (एच आई) ने फ़ैसला किया है कि ईवंटस को हिंदुस्तान के दारुल-हकूमत दिल्ली के इलावा दीगर अहम शहरों भूबनेश्वर, रांची, मोहाली, लखनऊ और मुंबई में भी करने का फ़ैसला किया है।

अंग्रेज़ी अख़बार से इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए हाकी इंडिया सेक्रेटरी नरेंद्र बत्रा ने कहा कि हिंदुस्तान को अब जब कि 2015 ता 2018 के दरमयान चंद बड़े ईवंटस की मेज़बानी मिली है लिहाज़ा फ़ैसला किया गया है कि ईवंटस को दारुल-हकूमत दिल्ली के इलावा दीगर अहम शहरों में भी किया जाये।

हाकी इंडिया के मुताबिक‌ हिंदुस्तान को 2018 वर्ल्ड कप की मेज़बानी के हुक़ूक़ मिल गए है जैसा कि उसने मेज़बानी केलिए अपनी ताक़तवर बोली पेश की। मेज़बानी की दौड़ में हिंदुस्तान ने मलेशिया न्यूज़ीलैंड ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी को मात दी। एच आई ने मज़ीद कहा है कि 2018 का वर्ल्ड कप एक ता 16 दिसम्बर किया जाएगा।

एफ़ आई ई एच को हिंदुस्तान की जानिब से 2010 में दिल्ली में वर्ल्ड कप करने की वजह से मआशी फ़ायदा हुआ है और यही एक अहम वजह है कि आलमी तंज़ीम ने हिंदुस्तान को चार अहम और बड़े ईवंटस की मेज़बानी के हुक़ूक़ दिए हैं। कई सालों से क्रिकेट की तरह अब हाकी की मेज़बानी हिंदुस्तान में करने की वजह से आलमी तंज़ीम को मालियती फ़ायदा होरहा है क्योंकि यहां हिंदुस्तान में कई ख़ानगी और कॉरपोरेट सेक्टर हाकी को अपना तआवुन दे रहे हैं।

एफ़ आई एच ने हिंदुस्तान को वर्ल्ड कप की मेज़बानी का ऐलान करने के इलावा 13 दीगर ईवंटस की मेज़बानी का भी ऐलान किया है जैसा कि 2018 वीमंस वर्ल्ड कप का इनइक़ाद इंगलैंड में होगा। आइन्दा चार सालों में होने वाले 17 ईवंटस को चार ममालिक हिंदुस्तान (4) अर्जनटीना (7) बलजीय‌म (3) और इंगलैंड (3) के दरमयान तक़सीम कर दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT