Sunday , September 23 2018

हिंदूस्तानी सिनेमा के 100 साल दिलीप कुमार की सवानिह ( जीवनी) अमेरीकी तैयारी

फ़िल्मी दुनिया की अफ़सानवी शख़्सियत दिलीप कुमार की सवानिह हयात ( जीवनी/ Biography) जल्द ही मंज़रे आम पर आएगी जिस में इनकी ज़िंदगी का अहाता किया जाएगा। सवानिह हयात ( Biography) में फ़िल्मी दुनिया में उनके उरूज के ज़माने का ख़ुसूसी तौर पर ज़िक्र किय

फ़िल्मी दुनिया की अफ़सानवी शख़्सियत दिलीप कुमार की सवानिह हयात ( जीवनी/ Biography) जल्द ही मंज़रे आम पर आएगी जिस में इनकी ज़िंदगी का अहाता किया जाएगा। सवानिह हयात ( Biography) में फ़िल्मी दुनिया में उनके उरूज के ज़माने का ख़ुसूसी तौर पर ज़िक्र किया जाएगा।

हिंदूस्तानी सिनेमा के 100 साल के मौक़ा पर सवानिह ( जीवनी) अमेरीकी लॉंचिंग अमल में आएगी। 89 साला मुअम्मर ( बूढे) अदाकार ने अपनी ज़िंदगी के अहम इक़तिबासात ( Excerpts) नामवर फ़िल्म सहाफ़ी तारा नय्यर को अमला के रूप में तहरीर करवाए हैं।

काफ़ी टेबल बुक की शक्ल में सवानिह उमरी दिलीप कुमार की अहलिया ( पत्नी) सायरा बानो की निगरानी में तहरीर की जा रही है। दिलीप कुमार की पेशावर में इबतिदाई ज़िंदगी जहां वो यूसुफ़ ख़ान की हैसियत से पैदा हुए और फिर उन की फ़िल्मी दुनिया का सफ़र। जहां देव यक्का रानी के ज़रीया उनहीं दरयाफ्त किया जाना।

फ़िल्मी कैरियर के लिए तीन नामों में से एक नाम का इंतिख़ाब ( चुनाव) करना। जहांगीर, वासूदेव और दिलीप कुमार। दिलीप कुमार ने आख़िर-उज़-ज़िक्र का इंतिख़ाब ( चयन) किया और इस के बाद फ़िल्मी दुनिया में जो हलचल मचाई इससे फ़िल्मी शायक़ीन बख़ूबी वाक़िफ़ हैं।

हिंदूस्तानी सिनेमा के 100 साल की तकमील ( समाप्ती) पर दिलीप कुमार की सवानिह अमेरीकी इजराई उन के लिए बेहतरीन ख़िराज-ए-तहिसीन साबित होगी। उदय तारा नय्यर के इंतिख़ाब ( चयन) पर सायरा बानो बेहद मुतमइन हैं।

उन्होंने कहा कि वो एक तज़ुर्बाकार फ़िल्मी सहाफ़ी ( पत्रकार) हैं और सवानिह उमरी के साथ मुकम्मल इंसाफ़ करेंगे |

TOPPOPULARRECENT