Monday , August 20 2018

हिंदूस्तान के साथ ताल्लुक़ात को मुस्तहकम करने सदर अफ़्ग़ानिस्तान कोशां

नई दिल्ली 3/ अक्टूबर (पी टी आई) पाकिस्तान से तल्ख़ तजुर्बा और हक़्क़ानी नैटवर्क से इस मुल़्क की साज़ बाज़ के पेशे नज़र सदर अफ़्ग़ानिस्तान हामिद करज़ई हिंदूस्तान के साथ ताल्लुक़ात को मुस्तहकम बनाने पर तवज्जा मर्कूज़ करेंगे। वो मंगल से हिं

नई दिल्ली 3/ अक्टूबर (पी टी आई) पाकिस्तान से तल्ख़ तजुर्बा और हक़्क़ानी नैटवर्क से इस मुल़्क की साज़ बाज़ के पेशे नज़र सदर अफ़्ग़ानिस्तान हामिद करज़ई हिंदूस्तान के साथ ताल्लुक़ात को मुस्तहकम बनाने पर तवज्जा मर्कूज़ करेंगे। वो मंगल से हिंदूस्तान का दौरा कररहे हैं। करज़ई वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह के साथ जामि मुज़ाकरात करेंगे इस से क़बल दोनों मुल्कों के दरमयान हिक्मत-ए-अमली पर मबनी मुआहिदों पर दस्तख़त की जाएगे। हिंदूस्तान के मुख़्तलिफ़ इमदादी प्रोग्राम को बेहतर बनाने और बाहमी सीकोरीटी मुज़ाकरात को जारी रखने पर भी इक़दामात किए जाएंगे। दोनों जानिब चंद याददाश्त मुफ़ाहमत पर भी दस्तख़त की जाएगी। हामिद करज़ई के दो रोज़ा दौरा-ए-हिंदूस्तान के दौरान मादिनी वसाइल को भी फ़रोग़ देने के लिए इक़दामात किए जाएंगें। बुरहान उद्दीन रब्बानी के क़तल के चंद दिन बाद हामिद करज़ई हिंदूस्तान का दौरा कररहे हैं। बुरहान उद्दीन रब्बानी ने जंग ज़दा मुल्क में अमन पेशरफ़त की क़ियादत की थी। दोनों मुल्कों के दरमयान अफ़्ग़ानिस्तान में सीकोरीटी सूरत-ए-हाल पर तबादला-ए-ख़्याल की तवक़्क़ो है। इस के इलावा हक़्क़ानी नैटवर्क को पाकिस्तान की एंटर सर वैसीस एन्टुली जिन्स (आई ऐस आई) की सरपरस्ती और हिमायत के पेशे नज़र अफ़्ग़ानिस्तान की सरज़मीन पर सीकोरीटी इक़दामात पर तवज्जा दी जाएगी। सिफ़ारती ज़राए के मुताबिक़ हुकूमत अफ़्ग़ानिस्तान का तजज़िया ये है कि पाकिस्तान पर किसी किस्म का भरोसा करना फ़ुज़ूल है क्योंकि वो हक़्क़ानी ग्रुप के साथ साज़ बाज़ रखता है। ये तंज़ीम तालिबान के साथ क़रीबी इत्तिहाद रखती है। इस लिए अफ़्ग़ानिस्तान हिंदूस्तान के साथ अहम इलाक़ों में ताल्लुक़ात को मज़बूत बनाना चाहता है। अफ़्ग़ानिस्तान के ओहदेदारों ने कहा कि इस बात का मज़बूत सबूत है कि रब्बानी का क़तल पाकिस्तान के इलाक़ा कोइटा में मौजूद तालिबान की क़ियादत की जानिब से करवाया गया था। इस क़तल के लिए आई ऐस आई ने भरपूर मदद की थी। ताहम पाकिस्तानी ओहदेदारों ने बुरहान उद्दीन रब्बानी के क़तल में मुलव्वस होने की तरदीद की ही। दूसरी जानिब अफ़्ग़ानिस्तान पाकिस्तान के साथ अपने ताल्लुक़ात पर नज़रसानी करना चाहता है। सदर हामिद करज़ई ने अपने हालिया एक ब्यान में कहा था कि इन की हुकूमत अमरीका, यूरोप और हिंदूस्तान के साथ क़रीबी तौर पर मिल कर काम करेगी और अपने मलिक के मुस्तक़बिल का मंसूबा बनाएगे। दिल्ली और काबुल के दरमयान ताल्लुक़ात को फ़रोग़ देने वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह और सदर हामिद करज़ई शीराज़ा बंदी की कोशिशों पर तबादला-ए-ख़्याल करेंगी। बुरहान उद्दीन रब्बानी का 20 सितंबर को क़तल किया गया था। इस क़तल के पस-ए-मंज़र में अफ़्ग़ानिस्तान में अमन पेशरफ़त को फ़रोग़ दिया जाएगा। साबिक़ सदर अफ़्ग़ानिस्तान बुरहान उद्दीन रब्बानी अफ़्ग़ान हाई कौंसल की क़ियादत कररहे थे जो तालिबान के साथ शीराज़ा बंदी के मुज़ाकरात में मसरूफ़ थे। हामिद करज़ई चहारशंबा के दिन हिंद। अफ़्ग़ानिस्तान ताल्लुक़ात के इलावा इस ख़ित्ता में पाई जाने वाली सूरत-ए-हाल पर लकचर देंगे। इन का ये दौरा अमरीका। पाकिस्तान ताल्लुक़ात में तल्ख़ी के दरमयान हो रहा है।

TOPPOPULARRECENT