Sunday , September 23 2018

हिंदूस्तान में राइटर्स पेंटर्स स्कालर्स और कार्टूनिस्टस पर हमले करना आसान : रुशदी

नई दिल्ली, १८सितंबर ( पी टी आई) मलाऊन ( खराब इंसान) सलमान रुशदी को अब इस बात का ग़म खाए जा रहा है कि हिंदूस्तान में इस की पहले जैसी आव भगत नहीं हो रही शख़्सी तौर पर नहीं बल्कि उस की किताबों को यूनीवर्सिटी के निसाब (आधार) के लिए सिर्फ इस लिए

नई दिल्ली, १८सितंबर ( पी टी आई) मलाऊन ( खराब इंसान) सलमान रुशदी को अब इस बात का ग़म खाए जा रहा है कि हिंदूस्तान में इस की पहले जैसी आव भगत नहीं हो रही शख़्सी तौर पर नहीं बल्कि उस की किताबों को यूनीवर्सिटी के निसाब (आधार) के लिए सिर्फ इस लिए मुंतख़ब ( चयन/ Select) नहीं किया जा रहा है क्योंकि वो हक़ीक़ी तौर पर एक हिंदूस्तानी अदीब नहीं है ।

याद रहे कि सलमान रुशदी का हाल ही में सी एन एन आई बी एन को दिया गया इंटरव्यू शाय ( प्रकाशित) किया गया है जिस में बदनाम-ए-ज़माना अदीब (साहित्यकार) ने एतराफ़ किया है कि हिंदूस्तान की जानिब से सर्द मोहरी से उसे सख़्त सदमा पहुंचा है । याद रहे कि मुसलमानों की दिला ज़ारी वाली नावल शैतानी आयात तहरीर करने वाले रुशदी के क़त्ल के फ़तवे जारी होने के बाद वो मुसलसल रूपोशी ( छिपी हुई) की ज़िंदगी बसर कर रहा है ।

रुशदी के मुताबिक़ उस की किताबों को आख़िर यूनीवर्सिटी निसाब के लिए मुंतख़ब ( चयन) क्यों नहीं किया जा रहा है? क्या वो हिंदूस्तानी नहीं है ? इस के जिस्म में हिंदूस्तानी ख़ून नहीं है ? रुशदी ने कहा कि ऐसा करना उस की तौहीन के मुतरादिफ़ ( बराबर) है ।

किताबों को मुंतख़ब किया जाना या ना किया जाना बाद की बात है लेकिन कम से कम इस का मुताला (समीक्षा) तो ज़रूर किया जाना चाहीए क्योंकि उन के मुताला से हिंदूस्तानी अदब को फ़रोग़ ज़रूर हासिल होगा । शैतानी आयात नामी किताब पर हिंदूस्तान में इमतिना आइद किए जाने से मुताल्लिक़ पूछे जाने पर रुशदी ने बताया कि उसे सिर्फ इसी बात का अफ़सोस है कि किताब का मुताला किए बगै़र इस पर अंधा धुंद तरीक़ा से इमतिना ( रोक ) आइद कर ( लगा) दिया गया ।

हिंदूस्तान में अब रॉयटर्स पेंटर्स स्कालर्स पर हमले करना आसान हो गया है । रुशदी ने कहा कि वो एक मुसलमान ख़ानदान के चशम-ओ-चिराग़ हिंदूस्तानी हैं । हिंदूस्तान में अब तख़लीक़ी सोच रखने वालों की कोई क़दर नहीं है । एम एफ़ हुसैन की जिलावतनी में मौत हिंदूस्तान के लिए नुक़्सान का सौदा साबित हुई है ।

TOPPOPULARRECENT