Monday , December 18 2017

हिंदू मुस्लिम इत्तेहाद के बगैर तरक़्क़ी नामुमकिन

ईद-उल-फ़ित्र के एक दिन बाद 11 अगस्त को जमात-ए-इस्लामी हिंद देगुलिवर की तरफ से ईद मिलाप प्रोग्राम संधू कॉलेज आव टेक्नोलॉजी देगुलिवर में मुनाक़िद हुआ।

ईद-उल-फ़ित्र के एक दिन बाद 11 अगस्त को जमात-ए-इस्लामी हिंद देगुलिवर की तरफ से ईद मिलाप प्रोग्राम संधू कॉलेज आव टेक्नोलॉजी देगुलिवर में मुनाक़िद हुआ।

जिस में तमाम मज़ाहिब के अफ़राद शामिल थे। इस प्रोग्राम में मराठी के मुक़र्रर मुहम्मद हक़्क़ानी ओदगेर से तशरीफ़ लाए थे। उन्होंने अपने ख़िताब में कहा कि हिंदू मुस्लिम इत्तेहाद के बगैर सहीह माअनों में तरक़्क़ी नामुमकिन है।

समाजी भाई चारा ,इत्तिफ़ाक़ और इत्तेहाद आज के ज़माने की ज़रूरत है। अबदुलमजीद ख़ान यूसुफ़ ज़ई अमीर मुक़ामी देगुलिवर ने इस प्रोग्राम की सदारत की और अपने ख़िताब में कहा कि ईद की ख़ुशीयां उस वक़्त दोबाला होजाती हैं जब हम सब मिलकर उस को मनाते हैं ताकि भाई चारगी में इज़ाफ़ा हो और गलतफहमियों का अज़ाला हो।

मेहमान ख़ुसूसी के तौर पर राजू पाटल कौंसिलर और अलापोरे सर हेडमास्टर गर्लज़ हाई स्कूल , सुरजीत का मुड़े नुमाइंदा सदर नगर परिषद दे गुलिवर और दीपक कोमा वार हाज़िर थे।

तिलावत कलाम पाक और इस का तर्जुमा ( मराठी ) से प्रोग्राम का आग़ाज़ हुआ। सयद अहमद कलेक्टर ने दरस हदीस दिया। निज़ामत और शुक्रिया के फ़राइज़ बरकत उल्लाह ने अंजाम दिए।

बिरादरान मिल्लत और बिरादरान वतन की कसीर तादाद शरीक प्रोग्राम थी। आख़िर में तमाम शुरका की शेरख़ोरमा से खतिर की गई।

TOPPOPULARRECENT