Monday , June 18 2018

हिंद – जुनूबी कोरिया सयासी स्कियोरीटी तआवुन में इज़ाफ़ा

हिंदूस्तान और जुनूबी कोरिया ने सयासी-ओ-स्कियोरिटी रवाबित में तौसीअ से इत्तेफ़ाक़ किया और साथ ही साथ बाहमी तिजारत को फ़रोग़ देने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। इस मक़सद के लिए 2015 तक 40 बिलीयन डॉलर्स की तिजारत का निशाना रखा गया है जो मुक़र्ररा हद से

हिंदूस्तान और जुनूबी कोरिया ने सयासी-ओ-स्कियोरिटी रवाबित में तौसीअ से इत्तेफ़ाक़ किया और साथ ही साथ बाहमी तिजारत को फ़रोग़ देने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। इस मक़सद के लिए 2015 तक 40 बिलीयन डॉलर्स की तिजारत का निशाना रखा गया है जो मुक़र्ररा हद से दो गुनी है।

वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह ने सदर जुनूबी कोरिया ली मोयिंग बुक से मुलाक़ात के बाद कहा कि हम ने सयासी और स्कियोरिटी तआवुन में तौसीअ से इतेफ़ाक़ किया है। इस मक़सद के तहत सीयूल में हिंदूस्तानी सिफ़ारत ख़ाना में एक दिफ़ाई नुमाइंदा मुक़र्रर करने के फ़ैसले से सदर जुनूबी कोरिया को मतला किया गया है।

ये बात भी नोट की गई है कि गुज़श्ता दो साल के दौरान बाहमी तिजारत में 65 फ़ीसद इज़ाफ़ा हुआ है। उन्होंने बताया कि इस हक़ीक़त को पेशे नज़र रखते हुए 2015 तक 40 बिलीयन डॉलर्स बाहमी तिजारत का नया निशाना मुक़र्रर किया गया है। बातचीत के बाद मुशतर्का ब्यान जारी करते हुए दोनों क़ाइदीन ने दहश्तगर्दी और बहरी क़ज़्ज़ाक़ी की वजह से लाहक़ ख़तरात पर गहिरी तशवीश ज़ाहिर की।

इन दोनों ने तवक़्क़ो ज़ाहिर की कि अक़वाम-ए-मुत्तहिदा में ज़ेर-ए-ग़ौर बैन-उल-अक़वामी दहश्तगर्दी पर जामि कन्वेनशन को अनक़रीब मंज़ूरी दे दी जाएगी। मनमोहन सिंह और ली ने इलाक़ाई मसाइल बिशमोल मशरिक़ी एशिया चोटी इजलास में भी तआवुन में इज़ाफ़ा से इत्तेफ़ाक़ किया है।

इस दौरान हिंदूस्तान ने जुनूबी कोरिया को सेटेलाईट दाग़ने की पेशकश की। इसके इलावा हिंदूस्तान में बिलख़सूस इंफ़रास्ट्रक्चर शोबा में सरमाया कारी की दावत दी। मनमोहन सिंह ने प्रेस कान्फ्रेंस में बताया कि हिंदूस्तान ने जुनूबी कोरिया को हिंदूस्तानी स्पेस लॉन्च व्हीकल के ज़रीया सेटेलाईट दाग़ने की जुनूबी कोरिया को पेशकश की ।

TOPPOPULARRECENT