हिन्दू-मुस्लिम भाई-भाई नहीं हो सकते है मुस्लिम भरोसे लायक नहीं : विश्व हिन्दू परिषद

हिन्दू-मुस्लिम भाई-भाई नहीं हो सकते है मुस्लिम भरोसे लायक नहीं : विश्व हिन्दू परिषद

बीएचपी के पूर्वी क्षेत्र संगठन मंत्री अमरीश ने विवादित बयान दिया। उन्‍होंने कहा, दो ही लाइन होती है, एक देशभक्ति और दूसरी देशद्रोही, लेकिन यहां तो एक तीसरी अलगाववाद है। ये अलगाववादी क्या होता है? उन्‍होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि गो माता की हत्या करने वाले, रामलला के जन्मभूमि पर बाबरी नाम की स्मारक बनाने वाले, 1990 से कश्मीर घाटी से हिन्दुओं को बाहर करने वाले, जिहाद के नाम पर बम फोड़ने वाले, हिन्दू कन्या का अपहरण करने वाले, वंदे मातरम् से परहेज करने वाले और भारत माता की जय न करने वाले , चाहे जितने नारे लगा लें, भाई नहीं बन सकते।

भारत से नागरिकता का प्रमाण पत्र लेकर हमारे ही टुकड़ों की रोटी खाकर, हमारे ही पैसे से फाइव स्टार होटल में रहकर, हमारे ही पैसे से हवाई जहाजों से चल कर और दिल्ली में आकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करके यहां की सम्प्रभुता को ललकारने वाले कुत्तों को टुकड़े देने की परंपरा बंद होनी चाहिए। इन पागल कुत्तों को गोली मार देनी चाहिए।
उन्होंने कहा हिन्दू और मुस्लिम भाई भाई नही हो सकते है मुसलमान भरोसे के लायक नही है

Top Stories