Wednesday , December 13 2017

हिरोशिमा की यात्रा कर इतिहास रचेंगें बराक ओबामा

हिरोशिमा। राष्ट्रपति ओबामा आज हिरोशिमा की यात्रा करके इतिहास रचने के लिए तैयार हैं। वह ऐसे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं, जो इस पद पर रहते हुए उस स्थान का दौरा करने जा रहे हैं, जो परमाणु युग की तबाही का शिकार बना था। यह यात्रा उस भयावह हमले के सात दशक से भी ज्यादा समय बाद हो रही है, जिसमें एक अमेरिकी विमान एनोला गे ने ‘लिटिल ब्वॉय’ नामक पेलोड को जापान के पश्चिमी शहर पर गिराकर तबाही का मंजर दिखा दिया था. इस बमबारी ने 1.4 लाख लोगों की जान ले ली थी।

इनमें से कुछ लोग झुलसा देने वाली गर्मी की चपेट में आकर तुरंत ही मारे गये थे जबकि कुछ लोगों ने घायल होने की वजह से या विकिरण की चपेट में आकर बीमार होने की वजह से कुछ हफ्तों, महीनों या वर्षों में दम तोड दिया था। अमेरिका ने दूसरा बम तीन दिन बाद नागासाकी पर गिराया था. ओबामा ने अपने कार्यकाल के अंतिम वर्ष में होने वाली इस यात्रा से सात साल पहले, प्राग में परमाणु हथियारों को पूरी तरह से खात्म करने के आह्वान वाला ऐतिहासिक भाषण दिया था, जिसने उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

TOPPOPULARRECENT