EVM को लेकर हुआ बड़ा खुलासा : चार राज्यों की कई सीटों पर कुल वोटिंग से ज्यादा वोट गिने गए

EVM को लेकर हुआ बड़ा खुलासा : चार राज्यों की कई सीटों पर कुल वोटिंग से ज्यादा वोट गिने गए

नई दिल्ली : मतदान प्रक्रिया को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। दावा है कि देश के करीब चार राज्यों की कई सीटों पर कुल वोटिंग से ज्यादा वोट गिने गए। इन सीटों में तीन हाई प्रोफाइल सीटें भी शामिल हैं, जिनमें बिहार की पटना साहिब, जहानाबाद और बेगूसराय संसदीय सीट है। दरअसल, हाल ही में ‘न्यूज क्लिक’ ने वोटों की गिनती से जुड़ी जांच-पड़ताल की थी, जिसमें पता लगा कि बिहार, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और मध्य प्रदेश में कुछ सीटों पर कुल मतदान से अधिक संख्या में हजारों वोट गिने गए।

न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट में आगे कहा गया कि जिन संसदीय सीटों में वोटों की गिनती की जांच हुई उनमें से आठ में कम से कम एक पर इस प्रकार की गड़बड़ी हारने वाले प्रत्याशी के वोटों के अंतर से भी कहीं है।

कुछ राज्यों की और चुनाव आयोग (ईसी) की वेबसाइटों और ईसी के वोटर टर्नआउट ऐप से जुटाए गए आंकड़े के हवाले से रिपोर्ट में बताया गया कि 20 लाख 51 हजार 905 मतदाता वाले पटना साहिब क्षेत्र में 46.34 फीसदी मतदान हुआ। वहां नौ लाख 50 हजार 852 वोट डाले जाने थे, पर गिनती में नौ लाख 82 हजार 285 वोट रहे। यानी इस सीट पर 31 हजार 433 वोटों का फर्क था। बीजेपी उम्मीदवार यहां 2.84 लाख वोटों से जीते हैं।

वहीं, कुल 19 लाख 54 हजार 484 वोटर्स वाली बेगूसराय सीट पर 61.27 प्रतिशत वोटिंग हुई। वहां 11 लाख 97 हजार 512 मत पड़ने थे, पर वोटों की गिनती में आंकड़ा 12 लाख 25 हजार 594 था। यानी असल वोटिंग और गिने गए वोटों के बीच 28 हजार 82 वोटों का फर्क था। इस सीट से भी बीजेपी उम्मीदवार लगभग चार लाख मतों के अंतर से जीते हैं। पड़ताल में इसके अलावा पूर्वी दिल्ली, मध्य प्रदेश की गुना व मुरैना, यूपी की बदायूं और फर्रूखाबाद संसदीय सीट पर इसी प्रकार से असल में डलने वाले वोटों और उनकी गिनती के बीच फर्क पाया गया।

बात दें कि विपक्ष ने बिहार, यूपी, हरियाणा समेत कई और राज्यों में ईवीएम के साथ छेड़छाड़ होने का आरोप लगाया था।

Top Stories