Wednesday , December 13 2017

हुकूमत आंध्र प्रदेश की विजएवाड़ा में दावते इफ़तार

रमज़ानुल मुबारक में हुकूमत की जानिब से मुसलमानों के लिए दावते इफ़तार का एहतेमाम एक क़दीम रिवायत है। ताहम आंध्र प्रदेश की दो रियासतों में तक़सीम के बाद तेलंगाना और आंध्र प्रदेश हुकूमतों ने दावते इफ़तार की तैयारीयों का आग़ाज़ कर दिया है

रमज़ानुल मुबारक में हुकूमत की जानिब से मुसलमानों के लिए दावते इफ़तार का एहतेमाम एक क़दीम रिवायत है। ताहम आंध्र प्रदेश की दो रियासतों में तक़सीम के बाद तेलंगाना और आंध्र प्रदेश हुकूमतों ने दावते इफ़तार की तैयारीयों का आग़ाज़ कर दिया है। चीफ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश एन चंद्र बाबू नायडू ने 12 जुलाई को दावते इफ़तार के एहतेमाम का फैसला किया ताहम ये दावते इफ़तार हैदराबाद के बजाय विजए वाड़ा में होगी।

वाज़ेह रहे कि रियासत की तक़सीम के बावजूद हैदराबाद 10 बरसों तक दोनों रियासतों का मुशतर्का दारुल हुकूमत है ताहम चंद्र बाबू नायडू ने हैदराबाद के बजाय विजए वाड़ा में दावते इफ़तार को तरजीह दी। दूसरी तरफ़ चीफ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्र शेखर राव ने आज सेक्रेट्री अक़लीयती बहबूद अहमद नदीम से दावते इफ़तार के मसअले पर मुशावरत की।

चन्द्र शेखर राव बहैसियत चीफ मिनिस्टर पहली मर्तबा दावते इफ़तार का एहतेमाम करने जा रहे हैं लिहाज़ा वो चाहते हैं कि बड़े पैमाना पर इस का एहतेमाम हो। बताया जाता है कि 22 जुलाई को दावते इफ़तार हाईटेक सिटी इलाक़ा माधापूर के हाई टैक्स में मुनाक़िद करना तए पाया है। इस के इलावा तेलंगाना के तमाम 10 अज़ला में भी दावते इफ़तार का एहतेमाम करने का फैसला किया गया।

TOPPOPULARRECENT