Monday , December 18 2017

हुकूमत की तृणमूल कांग्रेस से मुलाक़ात फ़ैसलों की वज़ाहत

नई दिल्ली, २० सितंबर ( पी टी आई) यू पी ए हुकूमत तृणमूल कांग्रेस से मुलाक़ात के दौरान अपने फ़ैसलों के पस-ए-मंज़र की तफ़सीलात से उसे वाक़िफ़ करवाएगी जब कि तृणमूल कांग्रेस ने फ़ैसला किया है कि डीज़ल की क़ीमत में इज़ाफ़ा और रीटेल शोबा ( Sector) में ए

नई दिल्ली, २० सितंबर ( पी टी आई) यू पी ए हुकूमत तृणमूल कांग्रेस से मुलाक़ात के दौरान अपने फ़ैसलों के पस-ए-मंज़र की तफ़सीलात से उसे वाक़िफ़ करवाएगी जब कि तृणमूल कांग्रेस ने फ़ैसला किया है कि डीज़ल की क़ीमत में इज़ाफ़ा और रीटेल शोबा ( Sector) में एफ डी आई के मसाइल (समस्याओं) पर यू पी ए हुकूमत की ताईद ( समर्थन) से दसतबरदारी ( हट जाना) इख़तियार कर ली जाएगी ।

ज़राए के बमूजब ( मुताबिक) कांग्रेसी क़ियादत (Leadership) के आला सतही क़ाइदीन ( उच्च स्तर के नेता) के वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह की क़ियामगाह पर एक इजलास ( सभा/ Meeting) के बाद फ़ैसला किया गया है कि तृणमूल कांग्रेस के सामने इन हालात की वज़ाहत (स्पष्टीकरण) की जाय जिन की बिना पर ये फ़ैसले किए गए हैं ।

इस बात का इशारा मिलता है कि हुकूमत तृणमूल कांग्रेस की सरबराह ममता बनर्जी के मुतालिबात तस्लीम ( स्वीकार) नहीं करेगी जिन्होंने रीटेल शोबा में एफ डी आई से मुकम्मल तौर पर दसतबरदारी और डीज़ल की क़ीमत में पाँच रुपय फ़ी लीटर इज़ाफ़ा में कमी कर के उसे तीन रुपय या चार रुपय फ़ी ( प्रति) लीटर इज़ाफ़ा कर देने का मुतालिबा किया है ।

तृणमूल कांग्रेस चाहती है कि सब्सीडी पर फ़राहम किए जाने वाले गैस सिलेंडर्स की तादाद भी 6 से 12 करदी जाय ।

TOPPOPULARRECENT