Sunday , December 17 2017

हुकूमत के इस रवैय्या पर उन्हें शदीद हैराहिमाचल में बाबा रामदेव को रियाली की इजाज़त नहीं

शिमला, 26 फरवरी: योगा गुरु बाबा रामदेव की उस वक़्त एक शदीद धक्का लगा जब सोलान डिस्ट्रिक्ट इंतिज़ामिया ने 27 फरवरी को एक रियाली मुनाक़िद करने की उन्हें इजाज़त नहीं दी। पानानजली योगपेठ के रियासती इंचार्ज लक्ष्मी दत्त शर्मा ने कहा कि हमने

शिमला, 26 फरवरी: योगा गुरु बाबा रामदेव की उस वक़्त एक शदीद धक्का लगा जब सोलान डिस्ट्रिक्ट इंतिज़ामिया ने 27 फरवरी को एक रियाली मुनाक़िद करने की उन्हें इजाज़त नहीं दी। पानानजली योगपेठ के रियासती इंचार्ज लक्ष्मी दत्त शर्मा ने कहा कि हमने रियाली का मुक़ाम साधू पुल से तब्दील कर के सोलान डिस्ट्रिक्ट में कर दिया था, और इंतिज़ामिया को यकीन दिलाया था, कि रियाली इंतिहाई पुरअमन होगी, लेकिन हैरत अंगेज़ तौर पर थूडू गराउंड में 27 फरवरी को मुनाक़िद शुदणी इस रियाली के इनइक़ाद की इजाज़त नहीं दी गई।

यहां तक कि एक ख़ानगी कंपनी जो एक बड़े हाल की मालिक है, और जिस ने रियाली के लिए हाल देने की हामी भरी थी, इस ख़ानगी पार्टी ने भी लम्हा आख़िर में हाल देने से इनकार कर दिया। ये बात समझ में आती है कि रियासती हुकूमत के शदीद दबाव में आने के बाद ही हाल के मालिक ने हाल देने से इनकार किया है, वर्ना कुछ रोज़ पहले तो वो हंसी ख़ुशी हाल देने के लिए तैयार थानी हुई है कि वो आख़िर ऐसा क्यों कर रही है?

TOPPOPULARRECENT