Wednesday , January 17 2018

हुकूमत बनाने की अमल 14 नवंबर से शुरू होगी : नीतीश कुमार

पटना : बिहार एसेम्बली इंतिख़ाब में अक्सरियत मिलने के बाद नयी हुकूमत की तशकील को लेकर अटकलबाजियों के दरमियान वजीरे आला नीतीश कुमार ने आज कहा कि हुकूमत बनाने की अमल की शुरुआत आइंदा 14 नवंबर को काबीना की बैठक के दौरान मौजूदा एवान की सिफारिश से होगी।

गवर्नर हाउस जाकर गवर्नर रामनाथ कोविंद को दिवाली की मुबारकबाद दी। इसके बाद सहाफ़ियों से कहा कि आइंदा 14 नवंबर को काबीना की बैठक होगी और मौजूदा एसेम्बली की सिफारिश हमलोग करेंगे और उसके बाद नई हुकूमत की तशकील का रास्ता साफ होगा । उन्होंने कहा कि 14 नवंबर को ही दोपहर में महागठबंधन के एमएलए दल की बैठक होगी और उसके बाद आगे हुकूमत बनाने के लिए गवर्नर के पास दावा पेश किया जाएगा और तारीख मुकर्रर होगा कि कब नई हुकूमत तशकील होगी।

नीतीश ने कहा कि मौजूदा एसेम्बली का मुद्दत 29 नवंबर तक है और हुकूमत तशकील की अमल 29 के बाद होती। मगर बीच में ही हुकूमत की तशकील करना है, इसलिए एवान को मुस्तर्द करना है जिसके लिए आइंदा 14 नवंबर को बैठक बुलाई गयी है। उन्होंने कहा कि हम उस दिन ही अपनी हुकूमत का रीजाइन सौंपेंगे और उसी वक़्त से नई हुकूमत की तशकील का रास्ता साफ होगा। इसलिए यह पहला काम है कि एमएलए दल की बैठक और उसकी तरफ से अपने लीडर का सलेक्शन।

नीतीश ने कहा कि जब सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे उसके बाद हलफबरदारी की तारीख और हलफबरदारी मुकाम का सलेक्शन होगा। यह पूछे जाने पर कि क्या राजद से किसी को नायब वजीरे आला बनाया जाएगा इसको लेकर कोई यकीन नहीं देते दिख रहे नीतीश ने सिर्फ इतना कहा कि वक़्त पर सब कुछ बता दिया जाएगा। सियासी गलियारा में यह अटकले लगायी जा रही हैं कि लालू प्रसाद के खानदान से किसी को नायब वजीरे आल बनाया जाएगा। 243 रुकनी बिहार एसेम्बली में महागठबंधन को इस इंतिख़ाब में हासिल हुए 178 सीटों में से राजद 80 सीटें हासिल कर सबसे बडी पार्टी के तौर में उभरी है जबकि जदयू को 71 और कांग्रेस को 27 सीटों हासिल हुई है।

 

 

TOPPOPULARRECENT