Friday , December 15 2017

हुकूमत संजीदा हो तो मुज़ाकरात के लिए तैयार हैं – हकीम उल्लाह महसूद

तहरीके तालिबान पाकिस्तान के रहनुमा हकीम उल्लाह महसूद ने कहा है कि वो मुज़ाकरात के लिए संजीदा थे लेकिन हुकूमते पाकिस्तान ने मुज़ाकरात के आग़ाज़ के लिए कोई अमली इक़दामात नहीं किए।

तहरीके तालिबान पाकिस्तान के रहनुमा हकीम उल्लाह महसूद ने कहा है कि वो मुज़ाकरात के लिए संजीदा थे लेकिन हुकूमते पाकिस्तान ने मुज़ाकरात के आग़ाज़ के लिए कोई अमली इक़दामात नहीं किए।

जंग बंदी से मुताल्लिक़ पूछे गए एक सवाल के जवाब में तालिबान रहनुमा का कहना था कि अगर अमरीकी ड्रोन हमले बंद हो जाएं तो जंग बंदी के बारे में भी सोचा जा सकता है।

अमरीका ने हकीम उल्लाह महसूद के सर पर 5 मिलयन यूरो का इनाम मुक़र्रर कर रखा है। महसूद का कहना कि वो अमरीका और उस के इत्तिहादियों के ख़िलाफ़ हमले जारी रखेंगे। एक टेली वीज़न इंटरव्यू में हुकूमत पाकिस्तान के साथ मुज़ाकरात के हवाले से हकीम उल्लाह महसूद का कहना था, हम संजीदा मुज़ाकरात पर यक़ीन रखते हैं लेकिन हुकूमत ने इस हवाले से कोई संजीदा इक़दाम नहीं किए।

इस हवाले से उन का मज़ीद कहना था, हुकूमत ने इस मुनासिबत से कोई बाज़ाब्ता राबिता नहीं किया, मुज़ाकरात का तरीकेकार वाज़ेह है अगर फ़रीक़ैन बात-चीत में संजीदा हों तो वो मिल बैठ सकते हैं।

TOPPOPULARRECENT