हुक्मनामा मुल्क के मफ़ाद में

हुक्मनामा मुल्क  के मफ़ाद में
मिस्र के सदर मुहम्मद मर्सी ने कहा है कि इन के इख़्तयारात को कम करने वाले फ़ौजी हुक्म को रद्द करने और फ़ौज के चोटी के जनरलों को रिटायर करने का उन का फ़ैसला किसी फ़र्द या इदारा के ख़िलाफ़ नहीं है।

मिस्र के सदर मुहम्मद मर्सी ने कहा है कि इन के इख़्तयारात को कम करने वाले फ़ौजी हुक्म को रद्द करने और फ़ौज के चोटी के जनरलों को रिटायर करने का उन का फ़ैसला किसी फ़र्द या इदारा के ख़िलाफ़ नहीं है।

मर्सी ने रमज़ान के मौक़ा पर कल अपनी तक़रीर में कहा कि मैंने जो फ़ैसला लिया है इस का मक़सद किसी फ़र्द या इदारा को चोट पहूँचाना नहीं है। मैं किसी को भी मनफ़ी(निगेटिव) पैग़ाम नहीं देना चाहता हूँ।

Top Stories