Tuesday , December 12 2017

कश्मीर मुद्दे पर बात करनी है तो पहले जेल में बंद नौजवानों को रिहा करना होगा: हुर्रियत कांफ्रेंस

जम्मू कश्मीर: जम्मू कश्मीर में कश्मीरी युवाओं पर इस्तेमाल होने वाले पैलेट गन पर रोक लगाने की मांग हुई है| हुर्रियत कांफ्रेंस ने केंद्र सरकार से जम्मू कश्मीर में पैलेट गन रोक लगाने की मांग की है| आगे उन्होंने कश्मीरी युवाओं के जेल में बंद होने पर कहा कि अगर कश्मीर मुद्दे पर बात करनी है तो पहले इन युवाओं को रिहा करना होगा|| हुर्रियत का कहना है कि इस बातचीत में पाकिस्तान को भी शामिल करना चाहिए जिससे कोई हल निकल सके|

हुर्रियत लीडर सैयद अली शाह गिलानी के विश्वासपात्र देविंदर सिंह बहल ने एक पुलवाना में मारे गए मिलिटेंट के शोक सभा में कहा कि कश्मीर मुद्दा एक दिन में हल नहीं होगा ये सत्तर साल का मामला है| ये देश के साथ साथ लोगों की भावनाओं के साथ भी जुड़ा है|

इसलिए इस पर एक साथ बैठकर बातचीत कर के कोई हल निकाला जाना चाहिए| उन्होंने कहा कि अगर भारत सरकार कश्मीर मुद्दे पर बात करने के लिए उत्सुक हैं तो सबसे पहले आपको पैलट गन पर बात करनी होगी उसको बंद कराना होगा| उसके बाद जम्मू-कश्मीर की जेलों में बंद सभी युवा राजनीतिक कैदियों को रिहा करना होगा।

 

TOPPOPULARRECENT