Wednesday , December 13 2017

हुसैन सागर के किनारे दुनिया की बलंद तरीन इमारत की तामीर का फ़ैसला

तेलंगाना के चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ ने शहर के ख़ूबसूरत झील हुसैन सागर के किनारे संजीवया पार्क पर दुनिया की बलंद तरीन इमारत की तामीर को मंज़ूरी देदी।

तेलंगाना के चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ ने शहर के ख़ूबसूरत झील हुसैन सागर के किनारे संजीवया पार्क पर दुनिया की बलंद तरीन इमारत की तामीर को मंज़ूरी देदी।

चीफ़ मिनिस्टर ने हुसैन सागर झील को ख़ूबसूरत बनाने के मंसूबे पर तबादला-ए-ख़्याल के लिए एक अहम मीटिंग तलब किया जो पाँच घंटों तक जारी रहि।

इस मीटिंग में चीफ़ सेक्रेटरी राजीव शर्मा के बिशमोल दुसरे कई आला आफ़िसरान ने शिरकत की। ओहदेदारों ने नक़्शों के साथ एसी जायदादों की निशानदेही की जहां बुलंद-ओ-बाला इमारतें तामीर की जाएंगी।

मीटिंग में ये फ़ैसला भी किया गया कि हुसैन सागर झील के अतराफ़-ओ-अकनाफ़ के मुंतख़ब इलाके को 100 एकड़ तक वुसअत देते हुए 40 मुक़ामात पर बुलंद इमारतें तामीर की जाएंगी। उन मुक़ामात और इमारतों में बुद्धा भवन , रानीगंज बस डिपो , नशीबी टैंकबंड , कुन्दनबाग़ , पाती गड्डा , कशतीरानी कलब , यूथ हॉस्टल , राघव सदन , नर्सिंग कॉलोनी , दिलकुशा गेस्ट हाउज़ , ग्रीनलैंड गेस्ट हाउज़ , एमएलएज़ क्वाटर्रज़ ( जदीद ) , इलेक्ट्रिसिटी भवन , टॅक्स्ट बिक प्रिंटिंग प्रेस , रेड्डी हॉस्टल , बोह गोला राम कृष्णा राव‌ बिल्डिंग , एक्सपो टल और इसनो वर्ल्ड भी शामिल हैं। ये तमाम जायदादें चूँकि रियासती हुकूमत की ममलूका जायदादें हैं और उन से मुताल्लिक़ कोई तनाज़ा भी नहीं है चुनांचे चीफ़ मिनिस्टर को बिला किसी रुकावट अपने मंसूबा पर अमल आवरी की उम्मीद है। ताहम चीफ़ मिनिस्टर ने ये भी वाज़िह कर दिया कि तमाम तर तामीराती काम हुसैन सागर के इलाके के बाहर ही जारी रहेंगे।

चीफ़ मिनिस्टर चन्द्र शेखर राव‌ ने अवाम के मुंतख़ब नुमाइंदों और गणेश उत्सव समीती के ओहदेदारों कि एक मीटिंग तलब करने का फ़ैसला भी किया ताकि उन्हें हुसैन सागर झील में गणेश निमरजन को रोकने के लिए रज़ामंद करवाया जासके। के सी आर ने कहा कि इस ( हुसैन सागर) के बजाये क़रीब ही एक नई झील वनाइकसागर तामीर की जाएगी जहां गणेश मूर्तियों का नमरजन किया जा सकता है।

के सी आर ने कहा कि हुसैन सागर झील की तहा से पूरी रेत निकाली जाएगी और झील की असल गहराई से बहाल करने के लिए मुम्किना इक़दामात किए जाऐंगे। इस तरह बहर क़ीमत हुसैन सागर झील की सफ़ाई को अव्वलीन तर्जीह दी जाएगी।

चीफ़ मिनिस्टर ने रियासती चीफ़ सेक्रेटरी राजीव शर्मा की क़ियादत में एक ज़ेली कमेटी तशकील दी जिस में सीनियर आई ए एस आफ़िसरान एसके जोशी , पीटर रेमंड और नागी रेड्डी बहैसीयत अरकान शामिल हैं।

TOPPOPULARRECENT