Friday , August 17 2018

हूसी बाग़ीयों की तरफ़ से सलामती कौंसिल की क़रारदाद की मुज़म्मत

यमन में हूसी बाग़ीयों की क़ियादत पर मुश्तमिल सुप्रीम इन्क़िलाबी कमेटी ने अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल की तरफ़ से मंज़ूर की गई क़रारदाद को जारहीयत क़रार देते हुए उस की शदीद मुज़म्मत की है।

यमन में हूसी बाग़ीयों की क़ियादत पर मुश्तमिल सुप्रीम इन्क़िलाबी कमेटी ने अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल की तरफ़ से मंज़ूर की गई क़रारदाद को जारहीयत क़रार देते हुए उस की शदीद मुज़म्मत की है।

बाग़ीयों ने यमनी अवाम से एहतेजाजी रैलीयां निकालने का भी कहा है। गुज़िश्ता रोज़ पंद्रह रुक्नी सलामती कौंसिल ने हूसी बाग़ीयों के रहनुमाओं, साबिक़ यमनी सदर अली अबदुल्लाह सालेह और उन के बेटे के ख़िलाफ़ पाबंदीयां आइद कर दी थी।

सलामती कौंसिल के चौदह अराकीन ने इस क़रारदाद के हक़ में वोट दिया जबकि रूस ग़ैर हाज़िर रहा। रूस की तरफ़ से मुतालिबा किया गया है कि यमनी तनाज़े के तमाम फ़रीक़ैन को असलहे की फ़राहमी रोक दी जाए।

TOPPOPULARRECENT