Friday , December 15 2017

हैदराबाद में कारोबार केलीये मुस्लमान 10% सूद अदा करने पर मजबूर

हैदराबाद 18 अक्टूबर: मुसलमानों की मुआशी और समाजी पसमांदगी की ज़मीनी हालत मालूम करने के लिए कायम करदा सुधीर कमीशन से तक़रीबन तमाम सियासी जमाअतों के अलावा मुस्लिम तनज़ीमों ने इस बात का मुतालबा क्या कि मुसलमानों की पसमांदगी दूर करने के लिए बी सी कमीशन का कायम होना बहुत ज़रूरी है। ताके मुसलमानों को पसमांदगी की बुनियाद पर तहफ़्फुज़ात मल सकें और सुधीर कमीशन के रोबरू पेश होने वाले तमाम क़ाइदीन ओ- मुस्लिम नुमाइनदों ने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि मुसलमानों का एक बाक़ाअदा और जामि मवाद के बाद अगर बी सी कमीशन मुसलमानों को तहफ़्फुज़ात फ़राहम करता है तो ये अदालती रस्सा कुशी से पाक होगा।

क़ाइद कांग्रेस मुहम्मद अली शब्बीर की क़यादत में कांग्रेस वफ़द ने कमीशन से मुतालबा क्या के वो सल्लम , मार्किट , सरकारी स्कूलस के अलावा मुस्लिम अक्सरीयती इलाक़ों का दौरा करे ताके उन्हें मुसलमानों की ग़ुरबत का पता चले। मुहम्मद अली शब्बीर ने कहा कि मुस्लमान गरीब ठेले वाला रोज़ाना 10 फ़ीसद से ज़्यादा शराह सूद पर रक़म हासिल करते हुए अपना कारोबार ठेला बनडी पर करता है। ये तो पुराने शहर हैदरआबाद की हालत है जहां पर मुस्लमान अक्सरीयत में बसे हुए हैं।

इस की बह निस़्बत अज़ला और देहातओं में जहां रोज़गार के मवाके और वसाइल भी कम होते हैं , इन मुक़ामात पर मुस्लमान सतह ग़ुरबत से नीचे की ज़िंदगी बसर करने पर मजबूर हैं।

TOPPOPULARRECENT