Thursday , December 14 2017

हैदराबाद और अज़ला में तूफ़ानी हवाओं के साथ बारिश

हैदराबाद 27 अप्रैल:तेलंगाना में पिछ्ले तीन हफ़्तों से जारी तेज़् गर्मी की लहर के दरमियान रंगारेड्डी, हैदराबाद, मेदक, करीमनगर और नलगेंडा के कुछ हिस्सों में तूफ़ानी हवाओं और ज़ाला बारी के साथ बारिश के नतीजे में अवाम को झुलसा देने वाली धूप और लू से बड़ी हद तक राहत मिली।

इंडियन मेट्रोलोजीकल डिपार्टमेंट के इंचार्ज डायरेक्टर वाई के रेड्डी ने पी टी आई से कहा कि अज़ला हैदराबाद के चंद इलाक़ों में तूफ़ानी हवाओं और ज़ाला बारी के साथ बारिश हुई। वाई के रेड्डी ने कहा कि इन इलाक़ों में जहां बारिश होती है दर्जा हरारत में पाँच डिग्री कमी हो सकती है।

सियासत डाट काम के मुताबिक दोपहर से रात के दरमियान दोनों शहरों में बहादुरपूरा, किशनबाग़, काला पत्थर, चारमीनार, याक़ूतपूरा, संतोषनगर, सईदाबाद, अकबरबाग़, मलकपेट, दबीरपुरा, आज़मपूरा के अलावा चम्पापेट, वनस्थलीपुरम, दिलसुखनगर, एल्बीनगर, और् दुसरे मुक़ामात पर भी बारिश हुई है।

जिसके नतीजे में मौसम ख़ुशगवार हो गया और गर्मी से परेशान अवाम ने राहत की सांस ली। पुराने शहर के कई मुक़ामात पर बच्चे और नौजवान बारिश के दौरान सड़कों और घरों की छतों पर जमा हो गए। ज़ाला बारी के दरमियान बच्चों को बर्फ़ के टुकड़े जमा करते देखा गया।

ज़िला करीमनगर के मौज़ा गंभी राव‌पेट में ज़ाला बारी और बारिश के दरमियान बिजली गिरने के नतीजे में एक चरवाहा और रंगा रेड्डी के इलाके शम्सआबाद में ख़ातून किसान फ़ौत हो गए। 50 साला चरवाहा ए नाराय‌ना ,कोलामदी में शाम 4 और 5 बजे के बीच बकरीयां चरा रहा था कि बारिश के सबब दरख़्त के नीचे ठहर गया और बिजली गिरने के सबब फ़ौत हो गया। शम्सआबाद के इलाके कव्वागुड़ा में 28 साला भार्गवी और 18 साला संध्या खेत से घर वापिस हो रहे थे कि अचानक मूसलाधार बारिश से बचने के लिए अंजीर के दरख़्त के नीचे ठहर गए और बिजली गिरने के सबब भार्गवी बरसर मौक़ा फ़ौत हो गई। जबकि संध्या ज़ख़मी हो गया जिसको मुक़ामी देहातियों ने दवाख़ाना मुंतक़िल किया। अज़ला में ग़ैर मौसमी बारिश से चंद फसलों को नुक़्सान भी पहुँचा है।

TOPPOPULARRECENT