Saturday , December 16 2017

हैदराबाद को आज बैंगलोर के ख़िलाफ़ आख़िरी मौक़ा

शिखर धवन की ज़ेर-ए-क़ियादत सन राइज़स हैदराबाद के लिए आई पी एल के रवां सातवें ऐडीशन में रसाई के लिए आज‌ यहां रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के ख़िलाफ़ आख़िरी मौक़ा दस्तयाब रहेगा क्योंकि यहां राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए गुजिश्ता 3

शिखर धवन की ज़ेर-ए-क़ियादत सन राइज़स हैदराबाद के लिए आई पी एल के रवां सातवें ऐडीशन में रसाई के लिए आज‌ यहां रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के ख़िलाफ़ आख़िरी मौक़ा दस्तयाब रहेगा क्योंकि यहां राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए गुजिश्ता 3 मुक़ाबलों में मेज़बान टीम को मुंबई इंडियंस किंग्स एलेवन पंजाब और गुजिश्ता रात कोलकता नाईट रायडर्स के ख़िलाफ़ लगातार‌ 3 नाकामियां बर्दाश्त करनी पड़ी है|

इस की वजह से रवां टूर्नामेंट में आइन्दा मरहला प्ले आफ़ में उस की रसाई के इमकानात को शदीद नुक़्सान हुआ है। दूसरी जानिब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अपने गुजिश्ता मुक़ाबला में टूर्नामेंट की ताक़तवर तसव्वुर की जाने वाली टीम चिनई सुपर किंग्स के ख़िलाफ़ एक जामि कामयाबी हासिल की है जिस से टीम के हौसले काफ़ी बुलंद हैं।

सन राइज़स हैदराबाद को कोलकता नाईट रायडर्स के ख़िलाफ़ हुए गुजिश्ता मुक़ाबला में 7 विकटों की नाकामी में ना सिर्फ़ शदीद नुक़्सान पहुंचाया है बल्कि वो प्ले आफ़ की दौड़ से अमलन ख़ारिज होचुकी है। चिनई के ख़िलाफ़ ए बी डीविलियर्स ने 14 गेंदों में 28 रन‌ और युवराज सिंह ने ओपनर क्रीस गेल के इलावा बेहतर मुज़ाहरा करते हुए टीम को एक ऐसी कामयाबी दिलवाई जिस की बैंगलोर को अशद ज़रूरत थी।

बैंगलोर के लिए बौलिंग शोबा में ऑस्ट्रेलिया के उभरते फ़ास्ट बौलर मचल स्टारक और श्रीलंका के साबिक़ अज़ीम स्पिनर मिथ्या मुरलीधरन अपनी मौजूदगी का एहसास दिला रहे हैं। सन राइज़ हैदराबाद के लिए बैटिंग और बौलिंग दोनों ही शोबों के मुज़ाहिरों में कमी की वजह से काफ़ी नुक़्सान हुआ है|

गुजिश्ता मुक़ाबला में कोलकता के ख़िलाफ़ भुवनेश्वर कुमार महंगे बौलर साबित हुए हालाँकि उन्होंने पंजाब के ख़िलाफ़ बेहतर मुज़ाहरा किया था। दूसरी जानिब पंजाब के ख़िलाफ़ खराब‌ मुज़ाहरा करने वाले फ़ास्ट बौलर डील स्टेन का कोलकता के ख़िलाफ़ मुज़ाहरा बेहतर रहा। हैदराबाद जिसने बैटिंग शोबा में पंजाब के ख़िलाफ़ अपने घरेलू मैदान में 204 का हमालियाई स्कोर बनाया लेकिन अगले ही मुक़ाबला में कोलकता के ख़िलाफ़ सिर्फ़ 142 रन‌ स्कोर कर पाई।

इस तरह इसके बैटिंग शोबा में भी कमी रहा। कोलकता के बौलरों ने हैदराबादी बैटस्मेनों को वक़फ़ा वक़फ़ा से आउट करते हुए मेज़बान टीम को बड़ा स्कोर बनाने से बाज़ रखा। कप्तान शिखर धवन आरोन फंच, नमन ओझा और के एल राहुल ने गुजिश्ता मुक़ाबला में शुरूआत तो बेहतर की थी ताहम वो शुरूआत को एक बड़े स्कोर में तबदील नहीं कर पाए।

फ़ास्ट बौलर डील स्टेन और भुवनेश्वर कुमार के इलावा अमीत मिश्रा और डैरिन समी से टीम इंतिज़ामिया बेहतर मुज़ाहरा की उम्मीद कररहा है। दूसरी जानिब चिनई सुपर किंग के ख़िलाफ़ रॉयल चैनलजर्स बैंगलोर के ओपनर क्रीस गेल ने 48 रन‌ स्कोर करते हुए अपने फ़ार्म में वापसी का इशारा दिया है जबकि कप्तान वीराट कोहली के बैट से भी कुछ रन ज़रूर बने हैं लेकिन वो हनूज़ इस मेयार के मुताबिक़ मुज़ाहरा नहीं कर पाए हैं जिसके लिए वो बैनुल-अक़वामी सतह पर मशहूर हैं।

ए बी डीविलियर्स के मुज़ाहिरों में मजबूती और युवराज सिंह का फ़ार्म में आना बैंगलोर के लिए ख़ुश आइंद है। मचल स्टारक और मुरलीधरन फिर एक मर्तबा तवज्जो का मर्कज़ होंगे|

TOPPOPULARRECENT