Monday , November 20 2017
Home / Hyderabad News / हैदराबाद तेलंगाना का अटूट हिस्सा, चंद्र बाबू की गैर ज़रूरी मुदाख़िलत

हैदराबाद तेलंगाना का अटूट हिस्सा, चंद्र बाबू की गैर ज़रूरी मुदाख़िलत

कांग्रेस के सीनियर रुक्न असेंबली साबिक़ रियासती वज़ीर मिस्टर टी जीवन रेड्डी ने कहा कि हैदराबाद तेलंगाना का अटूट हिस्सा है। चीफ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश चंद्र बाबू नायडू ला ऐंड आर्डर के मसअले पर गैर ज़रूरी मुदाख़िलत करते हुए अख़्तियार

कांग्रेस के सीनियर रुक्न असेंबली साबिक़ रियासती वज़ीर मिस्टर टी जीवन रेड्डी ने कहा कि हैदराबाद तेलंगाना का अटूट हिस्सा है। चीफ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश चंद्र बाबू नायडू ला ऐंड आर्डर के मसअले पर गैर ज़रूरी मुदाख़िलत करते हुए अख़्तियारात गवर्नर को सौंपने के लिए बिल में तरमीम कराने की कोशिश कर रहे हैं।

मिस्टर जीवन रेड्डी ने कहा कि तक़सीम रियासत बिल में ला ऐंड आर्डर के अख़्तियारात तेलंगाना हुकूमत के अख़्तियारात में हैं। सिर्फ़ कोई मसअला पैदा हो जाने की सूरत में ही गवर्नर इस का जायज़ा ले सकते हैं और हुकूमत को सिर्फ़ तजावीज़ पेश कर सकते हैं मगर एन डी ए में तेलुगु देशम पार्टी हिस्सा होने पर चीफ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश मिस्टर इन चंद्र बाबू नायडू इस का बेजा इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहे हैं।

हैदराबाद दोनों रियासतों का मुशतर्का सदर मुक़ाम होने का ग़लत इस्तेमाल करते हुए गवर्नर को ख़ुसूसी अख़्तियारात दिलाने के लिए तेलंगाना के मुसव्वदा बिल में तरमीम कराने की कोशिश कर रहे हैं जो दस्तूर हिंद की ख़िलाफ़वर्ज़ी होगी बिल की मंज़ूरी में जो वाअदे किए गए हैं इस पर अमल करने के बजाय इस में तरमीम करना गैर मुनासिब है।

TOPPOPULARRECENT