Monday , April 23 2018

हैदराबाद: नेकनामपुर झील पर बना भारत का सबसे बड़ा अस्थायी द्वीप

हैदराबाद: ‘ध्रुवन्श’ नामक एक एनजीओ ने नेकनामपुर झील पर भारत का सबसे बड़ा अस्थायी द्वीप पेश किया है।

यह विचार झील में पानी की गुणवत्ता को बहाल करना था ताकि यह अधिक पक्षियों और मछलियों को आकर्षित कर सके।

तेलंगाना टुडे में दी गई खबरों के मुताबिक, ध्रुवंश एनजीओ के अध्यक्ष मधुलिका चौधरी ने कहा कि “तकनीकी रूप से चलने वाला बिस्तर दो साल से अधिक समय तक संभव हो सकता है। यह अस्थायी द्वीप शहरी झील बहाली में क्रांति लाएगा। ”

इस प्लेटफॉर्म पर तैरते हुए 3,500 आर्द्र भूमि वाले 2500 वर्ग फुट फ्लोटिंग टापू को एनजीओ द्वारा पेश किया गया था।

प्लेटफार्म के क्यूबोइड में पौधों की विविधता लगायी जाती है। हिबिस्कस, फाउंटेन घास, फूलों की जड़ी-बूटियों, तुलसी, अश्वगंधा, कैन्ना, कैटैल और वेतिवर जैसे पौधों का उपयोग किया जाता है। इस के अलावा मच्छरदानी पौधों, पानी की सफाई के पौधों, और जैव विविधता बढ़ती पौधों भी शामिल हैं।

शहर में भूजल स्तर बहुत कम स्तरों तक कम हुआ है। बी श्रीनिवास, वन और निदेशक, शहरी वन विभाग, हैदराबाद मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (एचएमडीए) ने कहा है कि एचएमडीए की सीमा में 3,120 से अधिक झीलों की पहचान की गई है और लगभग 2,400 झीलों के सर्वेक्षण का सर्वेक्षण अब तक पूरा हो चुका है।

TOPPOPULARRECENT