Monday , June 25 2018

हैदराबाद: मुस्लिम आरक्षण को ग़ैर मुस्लिम के पिछड़े वर्गों का समर्थन

हैदराबाद। तेलंगाना में मुसलमानों को बारह प्रतिशत आरक्षण देने के लिए तेलंगाना राज्य बैकवर्ड क्लास कमीशन के सार्वजनिक सुनवाई के तीसरे दिन मुस्लिम और गैर मुस्लिम संगठनों और व्यक्तियों ने अपने सुझाव पेश किए। मुस्लिम रिज़र्वेशन के समर्थन में ग़ैर मुस्लिम के पिछड़े वर्ग के संगठनों ने अपना प्रतिनिधित्व दिया। मुस्लिम आरक्षण पर तिलंगाना स्टेट बैकवर्ड क्लास कमीशन की जन सुनवाई के तीसरे दिन लगभग पचास सुझाव दिए गए। जन सुनवाई में भाग लेने वालों में रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर शफीक उज्ज्मा और प्रोफेसर मोहम्मद अंसारी शामिल रहे।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह पदेश 18 के अनुसार मुस्लिम आरक्षण का समर्थन करते हुए पिछड़ों वर्गों के नेता जे श्रीनिवास गोडसे ने भी बैकवर्ड क्लास कमीशन की जन सुनवाई की बैठक में भाग लिया। श्रीनिवास गोडसे ने कमीशन को यह सुझाव दिया है कि मुस्लिम रिज़र्वेशन पर व्यापक रिपोर्ट तैयार करे वरना इसका अंजाम भी गुजरात में हाल ही में पिछड़ों को दिए गये रेज़रवेशन की तरह ही होगा जिसे सुप्रीमकोर्ट ने खारिज कर दिया है।

मुसलमानों को बारह प्रतिशत आरक्षण देने के लिए तेलंगाना राज्य बैकवर्ड क्लास कमीशन की सार्वजनिक सुनवाई के लिए 17 दिसंबर अंतिम दिन है जब कि इच्छुक लोग 19 दिसंबर तक अपनी प्रतिनिधत्व ऑनलाइन पेशकश कर सकते हैं।

TOPPOPULARRECENT