हैदराबाद: मेट्रो रेल के बाद, शहर को जल्द मिलेंगी “इलेक्ट्रिक बसें”

हैदराबाद: मेट्रो रेल के बाद, शहर को जल्द मिलेंगी “इलेक्ट्रिक बसें”

हैदराबाद: सरकार प्रदूषण से शहर को बचाने के लिए तेलंगाना के हैदराबाद की जीएचएमसी सीमा में 40 इलेक्ट्रिक बसों को चलाने का प्रस्ताव रख रही है।

टीएसआरटीसी ने 40 इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति के लिए टेंडर आमंत्रित किये हैं। ग्यारह कंपनियों ने टेंडर दायर किए जिनमें हुंडई, टाटा मोटर्स, अशोक लेलैंड, गोल्ड स्टोन और यूके की एक कंपनी शामिल हैं।

आरटीसी इंजीनियरिंग अधिकारियों ने बताया कि गोल्ड स्टोन कंपनी ने सबसे निम्न टेंडर प्रस्तुत किया जिसके कारण उनका टेंडर स्वीकार कर लिया गया है। आरटीसी ने गोल्ड स्टोन कंपनी के साथ एक समझौते में प्रवेश किया। इस समझौते के अनुसार, कंपनी को इस साल सितंबर के अंत तक 40 बसों की आपूर्ति करनी होगी। गोल्ड स्टोन कंपनी का मुख्यालय चीन में स्थित है।

यह बताया जा रहा है कि यह कंपनी आरटीसी को 40 बसों को किराये के आधार पर प्रदान करेगा। ये सभी बसें जीएचएमसी की सीमाओं में चलेंगी।

टीएसआरटीसी के अधिकारियों के अनुसार, दूसरे चरण में 60 अधिक बसों की आपूर्ति के लिए टेंडर आमंत्रित किए जाएँगे। इन बसों को चलाने की जिम्मेदारी और उनका रखरखाव गोल्ड स्टोन कंपनी के साथ है। आरटीसी 35.35 रुपये प्रति किमी की दर से किराया का भुगतान करेगा। किराए की यह दर टीएसआरटीसी द्वारा नियुक्त निजी बसों को दी गई राशि के समान है।

Top Stories