Monday , December 18 2017

हैदराबाद से तेलंगाना तक का सफर

राज्यसभा ने जिस सूबे को अलाहिदा रियासत के तौर पर तश्कील के लिए मंजूरी दी है वह आजादी से पहले हैदराबाद रियासत के नाम से निजाम की हुक्मरानी थी। आइए जानते हैं हैदराबाद से तेलंगाना बनने के बीच कुछ खास वाकियात..

राज्यसभा ने जिस सूबे को अलाहिदा रियासत के तौर पर तश्कील के लिए मंजूरी दी है वह आजादी से पहले हैदराबाद रियासत के नाम से निजाम की हुक्मरानी थी। आइए जानते हैं हैदराबाद से तेलंगाना बनने के बीच कुछ खास वाकियात..

1948 : हिंदुस्तानी फौज ने निजाम के हैदराबाद स्टेट पर कार्रवाई की।
1950 : एम. ए. वेल्लोडी हैदराबाद रियासत के वज़ीर ए आला बने।
1952 : हैदराबाद रियासत में पहला इंतेखाबात

1 नवंबर 1956 : आंध्र प्रदेश की तश्कील करने के लिए उस वक्त की रियासत मद्रास से अलाहिदा रियासत आंध्र में तेलंगाना का इंजेज़ाम।

1969 : रियासत की तश्कील के लिए ‘जय तेलंगाना’ तहरीक शुरू। पुलिस फायरिंग में 300 से ज्यादा लोगों की मौत।
2001 : तेलंगाना तहरीक को रफ्तार देने के लिए के. चंद्रशेखर राव ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की तश्कील की।

अक्टूबर 2009 : चंद्रशेखर राव ने आमरण अनशन (Fast unto death) शुरू किया।

9 दिसंबर : मरकज़ ने तेलंगाना की तश्कील की कार्रवाई शुरू करने का ऐलान किया ।

23 दिसंबर : रायलसीमा और आंध्र इलाको में एहतिजाज और MPs और MLAs के बड़े पैमाने पर इस्तीफे की वजह से हुकूमत ने इस मुहिम को खटाई में डाल दिया।

3 फरवरी 2010 : मरकज़ ने पांच रुकनी श्रीकृष्ण कमीशन की तश्कील की ।
दिसंबर 2010 : श्रीकृष्ण कमीशन ने अपनी रिपोर्ट सौंपी, छह आप्शन सुझाए।

30 जुलाई 2013 : UPA coordination committee और कांग्रेस वर्किंग कमेटी ने रियासत की तश्कील की ताईद किया। सीमांध्र में एहतिजाजी मुज़ाहिरा शुरू।

3 अक्टूबर : मरकज़ी काबीने ने तेलंगाना की तश्कील के मुताल्लिक बिल को मंजूरी दी। रियासत की तस्कीम के मुद्दे का हल करने के लिए वुजराओं का ग्रुप तश्कील ।

6 दिसंबर : कैबिनेट ने बिल को सदर जम्हूरिया के पास भेजा।

11 दिसंबर : सदर जम्हूरिया ने राय जाहिर करने के लिए बिल को आंध्र प्रदेश विधानसभा को फारवर्ड किया। सदर जम्हूरिया ने बिल को 23 जनवरी तक लौटाने का वक्त दिया था। 12 दिसंबर को एक खुसूसी तैय्यारे से बिल आंध्र प्रदेश पहुंचाया गया।

30 जनवरी 2014 : विधानसभा के स्पीकर ने ऐलान किया कि बिल को खारिज करने के मुताल्लिक सीएम एन. किरण कुमार रेड्डी की तजवीज को पास किया गया।

7 फरवरी : विधानसभा के सुझावों को शामिल करते हुए बिल को कैबिनेट ने पार्लियामेंट में पेश करने की मंजूरी दी।

13 फरवरी : हंगामा, मिर्ची स्प्रे के बीच तेलंगाना बिल लोकसभा में पेश, अपोजिशन ने उठाए सवाल।

18 फरवरी : लोकसभा से बिल पास ।

20 फरवरी : राज्यसभा से बिल पास ।

TOPPOPULARRECENT