Sunday , December 17 2017

हॉस्टल के तालिबे इल्म का सड़क पर गदर

पटना कॉलेज हॉस्टल के तालिबे इल्म ने गुस्सा जाहिर करते हुए पटना कॉलेज गेट के ठीक सामने जम कर तोड़-फोड़ की। इसमें कई दुकानों और खोमचेवालों को नुकसान पहुंची है। कुछ आम आदमी भी जख्मी हुए हैं। तोड़-फोड़ की वजह मुक़ामी लोगों और तालिबे इल

पटना कॉलेज हॉस्टल के तालिबे इल्म ने गुस्सा जाहिर करते हुए पटना कॉलेज गेट के ठीक सामने जम कर तोड़-फोड़ की। इसमें कई दुकानों और खोमचेवालों को नुकसान पहुंची है। कुछ आम आदमी भी जख्मी हुए हैं। तोड़-फोड़ की वजह मुक़ामी लोगों और तालिबे इल्म के दरमियान आपसी रंजिश बतायी जाती है। तोड़-फोड़ की वजह से हॉस्टल और कॉलेज के आसपास दहशत का माहौल है।

तालिबे इल्म ने बताया कि एक मुक़ामी प्राइवेट स्कूल में स्कॉलरशिप की इम्तेहान के दौरान हॉस्टल के कुछ तालिबे इल्म को मुक़ामी लोगों ने घेर लिया और उनके साथ मारपीट की। इसकी इत्तिला जब हॉस्टल के तालिबे इल्म को मिली तो पचास-साठ की तादाद में तालिबे इल्म हॉस्टल से निकले और सड़क पर तोड़-फोड़ करने लगे। तालिबे इल्म ने एक ऑटोवाले का शीशा तोड़ दिया और ड्राइवर को भी चोट पहुंचायी।

तालिबे इल्म ने कुछ बाइक को भी नुकसान पहुंचाया है। तालिबे इल्म ने कुमार बुक सेंटर में भी तोड़-फोड़ की। एक अंडेवाले का पूरा खोमचा तोड़ दिया। वहीं बैठे एक ताला बनानेवाले नरेश की नाक में संगीन चोट लगी है।

पहले तालिबे इल्म को पीटा था

कुछ दिन पहले भी डीडीइ कैंपस के रेलवे काउंटर पर तालिबे इल्म और मुक़ामी लोगों में हुई झड़प के बाद एक तालिबे इल्म राम सुंदर को मुक़ामी लोगों ने अपने कब्जे में ले लिया था और उसकी जम कर पिटाई कर दी थी। आज की वाकिया को इस मामले से जोड़ कर देखा जा रहा है। वाकिया के बाद मुक़ामी लोगों और कैंपस के आसपास हालत काफी संगीन बनी हुई है। मुक़ामी लोगों ने बताया कि आए दिन यहां ऐसा होते रहता है। आपसी रंजिश में आमलोग भी निशाना बनते हैं।

“हॉस्टल में बड़ी तादाद में तालिबे इल्म गैर कानूनी तौर से रह रहे हैं। हमने तो पहले ही इंतेजामिया को लिख कर दे दिया है कि हॉस्टल को खाली कराया जाये, लेकिन उधर से कोई मदद नहीं मिल रहा है। पुलिस और इंतेजामिया अगर मदद करे तो हॉस्टल को खाली करा दिया जायेगा।”
रास बिहारी सिंह, प्राचार्य, पटना कॉलेज

TOPPOPULARRECENT