Monday , June 18 2018

ह्वाट्सएप के कारण लोग तनाव में, कांके पागल खाना पहुँच रहे लोग

रांची: ह्वाट्सएप के कारण लोग तनाव का शिकार होने लगे है़ं. रिश्तों में दरार भी आने लगी है. रांची में ही पिछले कुछ दिनों में ह्वाट्सएप के कारण तनावग्रस्त लोगों की संख्या बढ़ी है़ .रिनपास से मिले आंकड़े के अनुसार, हर सप्ताह लगभग दो या तीन मरीज ह्वाट्सएप के कारण तनाव, चिड़चिड़ापन, घबराहट से ग्रसित होकर अपना इलाज व काउंसिलिंग कराने पहुंच रहे है़ं. टेक्नोलॉजी जितनी तेजी से हमें आगे की ओर ले जा रही है, हमारे रोजमर्रा के कार्यों को आसान बना रही है़, उतनी ही तेजी से हम पर हावी भी होती जा रही है़ इसका सटीक उदाहरण है ह्वाट्सएप़ इस एप ने लोगों के संदेश भेजने में क्रांतिकारी बदलाव लाया़ लेकिन, अब इसका नकारात्मक प्रभाव भी दिखने लगे हैं. ह्वाट्सएप के कारण लोग तनाव का शिकार होने लगे है़ं. रिश्तों में दरार भी आने लगी है.

रांची में ही पिछले कुछ दिनों में ह्वाट्सएप के कारण तनावग्रस्त लोगों की संख्या बढ़ी है़ .रिनपास से मिले आंकड़े के अनुसार, हर सप्ताह लगभग दो या तीन मरीज ह्वाट्सएप के कारण तनाव, चिड़चिड़ापन, घबराहट से ग्रसित होकर अपना इलाज व काउंसिलिंग कराने पहुंच रहे है़ं.

18 साल के एक युवक का इलाज भी रिनपास में चल रहा है. उसने बी-कॉम किया है. सीए बनना चाहता है. ह्वाट्सएप में बने एक ग्रुप को उसने ज्वॉइन किया़ एक दिन ह्वाट्सएप ग्रुप से एक पोर्नोग्राफी फिल्म उसके मोबाइल पर आ गयी. इसे मां ने देख लिया. इससे मां के मन में बेटे के प्रति नकारात्मक भावना आ गयी. लड़के को लगने लगा कि उसने बड़ी गलती कर दी है. कुछ समय बाद उसके गर्ल फ्रेंड को भी इसकी जानकारी मिली. गर्ल फ्रेंड के मन में भी उसके प्रति गलत धारणा बन गयी. इससे युवक डिप्रेशन में चला गया़ अब रिनपास में युवक के साथ-साथ उसकी गर्ल फ्रेंड की भी काउंसलिंग हो रही है.

क्या कहते हैं चिकित्सक : ह्वाट्सएप अब लोगों की परेशानी का कारण बनता जा रहा है. इसके नकारात्मक प्रभाव भी दिखने लगे हैं. कई लोग तो अब ह्वाटसएप का दुरुपयोग भी करने लगे है़ं मैंने अपने फोन से ह्वाट्सएप हटा दिया है. मुझे कई लड़कियां अश्लील तसवीर भेजने लगी थीं. इससे पारिवारिक जीवन पर संकट आ गया था. लगातार 14 दिनों तक डिप्रेशन में रहने पर इलाज की जरूरत है़

TOPPOPULARRECENT