क़तर ने कहा, नई आतंकवाद सूची ‘निराशाजनक’ है

क़तर ने कहा, नई आतंकवाद सूची ‘निराशाजनक’ है
Click for full image

क़तर ने सऊदी अरब और उसके सहयोगियों द्वारा जारी की गयी एक नई ब्लैकलिस्ट को “निराशाजनक” बताया और कहा की वो उग्रवाद से लड़ने के लिए सब कुछ कर रहा है।

क़तर के संचार निदेशक शेख सैफ बिन अहमद अल थानी ने कहा कि, चार अरब देशो का क़तर से सम्बंधित 18 समूहों और व्यक्तियों को “आतंकवादी” सूची में शामिल करना आधारहीन है।

क़तर से समझौता करने के अंतरराष्ट्रीय दबाव के बावजूद, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, मिस्र और बहरीन ने मंगलवार को यह कदम उठाया ।

नए नामों में यमन और लीबिया की नौ संस्थाएं शामिल हैं। गौरतलब है की पिछले महीने जारी की गयी सूचि मे चार अरब देशो ने 59 लोगो और 12 समूहों को ब्लैकलिस्ट किया था।

शेख सैफ ने कहा: “यह नवीनतम सूची सबूत है की अवरोधक देश आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई के लिए प्रतिबद्ध नहीं हैं।”

“क़तर में आतंकवाद से सम्बंधित सभी व्यक्तियों पर मुकदमा चलाया गया है। हम अवरोधक देशो से यह कहना चाहते हैं की वो हमारे खिलाफ झूठे सबूत पैदा करने की बजाय अपने देश में उग्रवाद के खतरे का मुकाबला करने पर अधिक समय बिताये।”

उन्होंने कहा कि क़तर लगातार अपने आतंकवाद विरोधी कानूनों की समीक्षा करता रहता है, ताकि वो “उग्रवाद और आतंक के वित्तपोषण के खिलाफ लड़ाई में हमेशा आगे रहे”।

Top Stories