Saturday , December 16 2017

क़बाईलों के साथ इन्साफ़ रसानी के लिए क़ौमी सतह पर जद्दो जहद का एलान

सदर नशीन तेलंगाना पोलिटिकल जोइंट ऐक्शन कमेटी प्रोफ़ेसर कूदंड राम ने कहा कि पोलावरम प्रोजेक्ट के मसअले पर जे ए सी की जद्दो जहद अभी ख़त्म नहीं हुई है। उन्हों ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि खम्मम ज़िला के 7 मंडलों को आं

सदर नशीन तेलंगाना पोलिटिकल जोइंट ऐक्शन कमेटी प्रोफ़ेसर कूदंड राम ने कहा कि पोलावरम प्रोजेक्ट के मसअले पर जे ए सी की जद्दो जहद अभी ख़त्म नहीं हुई है। उन्हों ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि खम्मम ज़िला के 7 मंडलों को आंध्र प्रदेश में ज़म करने का फ़ैसला तेलंगाना अवाम के लिए हरगिज़ क़ाबिले क़ुबूल नहीं है।

मर्कज़ी हुकूमत ने यकतरफ़ा फ़ैसला करते हुए तेलंगाना अवाम के साथ नाइंसाफ़ी की है। उन्हों ने कहा कि तेलंगाना से मुशावरत के बगै़र ही मर्कज़ ने ना सिर्फ़ आर्डीनेंस को मंज़ूरी दी बल्कि सदर जम्हूरीया से भी मंज़ूरी हासिल कर ली गई। सात मंडलों में जहां कबायलियों की अक्सरीयत है उन की राय हासिल किए बगै़र ही जबरन आंध्र प्रदेश का हिस्सा बना दिया गया है।

कूदंड राम ने कहा कि इन सात मंडलों में 200 से ज़ाइद मवाज़आत हैं जिन्हें पोलावरम प्रोजेक्ट की तामीर की राह हमवार करने के लिए आंध्र प्रदेश में शामिल कर दिया गया। कूदंड राम ने बताया कि इस मसअले पर जद्दो जहद के लिए मुल्क भर के एस टी तबक़ा से ताल्लुक़ रखने वाले अरकाने पार्लीयामेंट की ताईद हासिल की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT