Tuesday , December 12 2017

क़ब्रिस्तान की अराज़ी के लिए पिछ्ले पाँच साल से इंतेज़ार

यल्लारेड्डी 18 सितंबर: मंडल नागीरेड्डीपेट में  चारगनटा वाला क़ब्रिस्तान जो पाँच साल पहले तालाब के कट्टा को वसी करने में चला गया। उसके बदले दूसरी जगह अराज़ी फ़राहम करने का तयक़्क़ुन देने वाले ज़िम्मे दारान पाँच साल से मुसलमानों को क़ब्रिस्तान के लिए अराज़ी फ़राहम करने में अदम दिलचस्पी का मुज़ाहरा कर रहे हैं।

जिससे मुक़ामी मुसलमानों में तशवीश पाई जाती है। जबकि तालाब के कट्टा को इस्तेमाल में ली गई क़ब्रिस्तान की अराज़ी का मुकम्मिल रिकार्ड मौजूद है। साल 2010 अक्टूबर के गज़्ट नंबर 41-A में सिलसिला नंबर 23040 पर सर्वे नंबर 850 में चार गंटा अराज़ी क़ब्रिस्तान की दर्ज है। लेकिन अफ़सोस कि मालतमीदा के मुसलमानों को क़ब्रिस्तान के लिए अराज़ी फ़राहम करने ज़िम्मेदारों में दिलचस्पी नहीं।

जो किसी तास्सुब से कम नहीं। वक़्फ़ नुमाइंदों ने इस ताल्लुक़ से ज़िला कलेक्टर से शिकायत करने की बात कही । रुकने असेंबली भी इस देरीना मसले को हल करने में दिलचस्पी लें तो ठीक होगा।

TOPPOPULARRECENT