Wednesday , December 13 2017

ख़लीज मुतास्सिरीन के मसाइल की यकसूई का मुतालिबा

लोक सभा के मीटिंग में ख़लीज के मुतास्सिरीन के ताल्लुक़ से मर्कज़ी वुज़रा के इलम में लाया जा चुका है, करीमनगर ज़िला हलक़ा पार्लियामेंट के एम पी बालका सुमन ने इस बात से वाक़िफ़ करवाया।

लोक सभा के मीटिंग में ख़लीज के मुतास्सिरीन के ताल्लुक़ से मर्कज़ी वुज़रा के इलम में लाया जा चुका है, करीमनगर ज़िला हलक़ा पार्लियामेंट के एम पी बालका सुमन ने इस बात से वाक़िफ़ करवाया।

बरोज़ जुमा मुक़ामी अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि तेलंगाना के मसाइल, पोलावरम आर्डीनेंस की इजराई को रद्द करने और ब्यास नदी से तलबा की लाशों को बाहर निकाले जाने और दुसरे मसाइल को मौज़ू बेहस लाया गया है।

शुमाली तेलंगाना अज़ला में मुलाज़िमतों और रोज़गार के मवाक़े ना होने की वजह से लाखों बेरोज़गार अफ़राद ख़लीजी मुमालिक का रुख़ कररहे हैं और वहां ये परेशान हाल अफ़राद जिन मुश्किलात कासामना कररहे हैं इस पर तशवीश का इज़हार क्या इन तमाम हालात से मर्कज़ी वज़ीर सुषमा स्वराज को बेहतर अंदाज़ में वाक़िफ़ करवाया गया।

दोनों एमपिज बालका सुमन और विनोद कुमार ने रुकन पार्लीमान निज़ामबाद कवीता के साथ मिल कर सुषमा स्वराज से काफ़ी देर तक बातचीत की और मुतालिबा किया कि वज़ीर-ए-ख़ारजा की तरफ से ज़िला में ग़ैर मुल्की मसाइल की यकसूई उमोर के लिए अक़लियत शोबा क़ायम किया जाना चाहीए ताके ख़लीज में अगर किसी के साथ नाइंसाफ़ी और धोका दही होतो उन की माली इमदाद होनी चाहीए जिस के कॉर्प्स फ़ंड मुख़तस किए जाने की ज़रूरत है।

इन तमाम मुआमलात पर संजीदगी से ग़ौर-ओ-फ़िक्र करने का सुषमा स्वराज ने वादा किया है। उन्होंने कहा कि पार्लियामेंट में पोलावरम आर्डीनेंस मौज़ू बेहस आया हम ने शिद्दत के साथ उसे मंसूख़ करने के लिए एहतेजाज किया जिस की वजह से मीटिंग को मुल्तवी कर दिया गया।

लाखों गरीजन ख़ानदान की ज़िंदगी बर्बाद करना मुनासिब नहीं है इस के लिए प्रोजेक्ट के डिज़ाइन के ख़िलाफ़ एहतेजाज किया गया। मौजूदा प्लान में तरमीम करके तामीर की जाये तो हमें कोई एतेराज़ नहीं होगा।

हिमाचल प्रदेश की ब्यास नदी के बहाओ में जो तलबा-ओ- तालिबात फ़ौत होगए इस सानिहा पर अफ़सोस का इज़हार करते हुए रेवेंयू मिनिस्टर के साथ मुलाक़ात की गई और लाशों की तलाश कर के विरसा के हवाले करने का मुतालिबा किया गया।

उन्होंने मुतालिबा किया कि सिंगारीनी मुलाज़िमीन को आई टी से मसतसनी रखा जाये और एफसी आई को दुबारा खोलते हुए उसे कारकरद बनाने के सिलसिले में मुताल्लिक़ा वुज़रा से मुलाक़ात करके बातचीत की जाएगी।कुछ मसाइल की यकसूई के लिए रियासती असेंबली में क़रारदादों की मंज़ूरी के लिए के सी आर से ख़ाहिश की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT